संकट के साथी : फसल निकलवाने के लिए नि:शुल्क दे रहे थ्रेसर, ट्रैक्टर-ट्रॉली

हिण्डोली. क्षेत्र के अमरतिया गांव में किसान गेहूं कटाई में एक दूसरे की मदद करने में जुट गए।

By: pankaj joshi

Published: 18 Apr 2020, 09:22 PM IST

संकट के साथी : फसल निकलवाने के लिए नि:शुल्क दे रहे थ्रेसर, ट्रैक्टर-ट्रॉली
हिण्डोली. क्षेत्र के अमरतिया गांव में किसान गेहूं कटाई में एक दूसरे की मदद करने में जुट गए। यहां मजदूर नहीं मिलने से परेशानी बढ़ गई थी। अब जब सब एक-दूसरे की मदद में जुटे तो लॉकडाउन के बीच मजदूर नहीं मिलने की समस्या हल हो गई। किसान भी परिवार सहित मनमुटाव भुलाकर जुट गए। गांव के किसान राजेंद्र सैनी व मदन लाल सैनी ने बताया कि ऐसे वक्त में सभी को एक दूसरे के काम आना चाहिए।
नोताडा. लॉकडाउन के बीच खेतों में जुटे काश्तकार एक दूसरे की मदद से भी नहीं हट रहे। इस बार जिले में अन्य स्थानों से मजदूर एवं मशीनें नहीं आई। ऐसे में फसलों की कटाई और फिर थ्रेसर से निकलवाने में परेशानी खड़ी हो गई। मुकेश बोहरा ने बताया कि उन्हें चने की फसल निकलवानी थी, लेकिन मशीन नहीं मिली। ऐसे में गांव के ही भंवर सिंह पटवारी ने चने की फसल निकलवाने के लिए अपना थ्रेसर नि:शुल्क उपलब्ध करवाया।इधर, शिवराज चौधरी ने बताया कि उन्होंने इस संकट के समय में अपने ट्रैक्टर दो तीन किसानों कि उपज खेतों से घर पहुंचाने में दे दिए। ताकि एक-दूसरे की मदद हो सके। जो फसल पककर तैयार हो चुकी वह घरों पर पहुंच सकें। यहां किसानों ने बताया कि ऐसे वक्त में हमें लोगों के काम आना चाहिए।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned