करंट ने लील ली जिंदगी

शहर के बहादुर सिंह सर्किल के निकट मुख्य डाकघर के सामने सडक़ किनारे सोमवार दोपहर बाद करंट लगने से एक गाडिय़ा लुहार की मौत हो गई।

By: pankaj joshi

Published: 06 Apr 2020, 11:12 PM IST

करंट ने लील ली जिंदगी
- मुख्य डाकघर के सामने हुई घटना
बूंदी. शहर के बहादुर सिंह सर्किल के निकट मुख्य डाकघर के सामने सडक़ किनारे सोमवार दोपहर बाद करंट लगने से एक गाडिय़ा लुहार की मौत हो गई। सूचना पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची।
पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि यहां गाडिय़ा लुहार परिवार लम्बे समय से झोंपड़ी बनाकर रह रहा था। पास ही लगे विद्युत ट्रासफार्मर की चपेट में दोपहर बाद 45 वर्षीय नारायण लाल आ गया। वह गंभीर रूप से झुलस गया। उसे बूंदी जिला चिकित्सालय में लेकर पहुंचे जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। कोतवाली थानाधिकारी लोकेंद्र पालीवाल ने बताया कि मृतक का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया। रिपोर्ट मिलने पर आगे की कार्रवाई करेंगे। इधर, अचानक हुई मौत से गाडिय़ा लुहार परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। वह बीच सडक़ पर तड़प उठे।

युवक की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल पहुंचने से पहले हुई मौत
कापरेन. क्षेत्र के बोयाखेड़ा निवासी मुकेश मीणा (38 ) की सोमवार को अचानक तबीयत बिगडऩे से मौत हो गई।
थानाधिकारी बुद्धिप्रकाश नामा ने बताया कि मुकेश मीणा कस्बे में टेंट की दुकान लगाता था। सोमवार को अपने गांव बोयाखेड़ा में खेत में फसल की देखरेख व कार्य के लिए गया था, तभी उसकी तबीयत बिगड़ गई।उसे आस-पास के ग्रामीण और परिजन कापरेन चिकित्सालय में लेकर आए। लेकिन उसकी रास्ते में ही मौत हो चुकी थी।अस्पताल में चिकित्सकों ने मृत घोषित किया। इसके बाद उसका पोस्टमार्टम कराया गया।मुकेश की अचानक मौत होने से गांव में शोक की लहर दौड़ गई। परिजन बेहाल हो गए।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned