किसान संघर्ष समिति ने किया विरोध प्रदर्शन, पटवारियों के खिलाफ खोला मोर्चा

पटवारियों के किसानों के कार्य नहीं करने से खफा किसान संघर्ष समिति ने सोमवार को यहां जिला कलक्ट्रेट पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया।

By: Narendra Agarwal

Published: 25 Aug 2020, 12:21 PM IST

बूंदी. पटवारियों के किसानों के कार्य नहीं करने से खफा किसान संघर्ष समिति ने सोमवार को यहां जिला कलक्ट्रेट पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। समिति ने मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।
समिति से जुड़े किसान सुबह बूंदी के हायर सैकण्डरी स्कूल मैदान में एकत्र हुए। यहां से संयोजक संदीप पुरोहित व किसान नेता परमेश्वर झंवर की अगुवाई में जुलूस के रूप में जिला कलक्ट्रेट पहुंचे। किसान हाथों में बैनर एवं तख्तियां लिए हुए थे। जिला कलक्टर को बताया कि पटवारी अभी तक किसानों के ऑफलाइन इंतकाल नहीं खोल रहे। पेंशन फार्म, सामाजिक सुरक्षा व खाद्य सुरक्षा जैसे कार्य समय पर नहीं कर रहे। मुख्यालय पर नहीं मिलते। किसान उन्हें ढूंढने के लिए रोज वहां-वहां भटक रहे। इससे सैकड़ों किसानों को सरकार की योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा।
किसानों ने पटवारियों के मिलने का स्थान चिह्नित करने और उनकी नियमित उपस्थिति जांच की व्यवस्था कराने की भी मांग की। किसानों ने बताया कि बीते दिनों हिण्डोली विधायक एवं खेल राज्यमंत्री अशोक चांदना ने जब किसानों के काम प्राथमिकता से कराने के निर्देश दिए तो काम करने की जगह उलट मंत्री के खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया। किसानों ने दोषी पटवारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग रखी। उन्होंने कहा कि यदि जिला प्रशासन ने ऐसे कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो पूरे जिले में आंदोलन किए जाएंगे। इस दौरान कैलाश गुर्जर, गोविंद गुर्जर, महावीर गुर्जर, राजेश कुमावत, प्रेम चौधरी, सेवा सिंह, कन्हैयालाल यादव, सत्यनाराण चौधरी, लोईचा सरपंच रामरतन भील, गरडदा सरपंच गायत्री बाई, धनातरी सरपंच कलापुरोहित, रामगंज सरपंच रामलाल सैनी, कालपुरिया सरपंच भगवान सिंह, कालूलाल सैनी आदि मौजूद थे।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned