कोर्ट में सुनवाई के बीच घुसे एसडीएम ने जताई नाराजगी, भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन

नैनवां. राज्य सरकार की ओर से बढ़ाई बिजली की दरों को वापस लेने की मांग को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को नैनवां उपखंड अधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया।

pankaj joshi

February, 1409:42 PM

कोर्ट में सुनवाई के बीच घुसे एसडीएम ने जताई नाराजगी, भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन
नैनवां. राज्य सरकार की ओर से बढ़ाई बिजली की दरों को वापस लेने की मांग को लेकर भाजपा कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को नैनवां उपखंड अधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया। राज्यपाल के नाम ज्ञापन उपखंड अधिकारी को सौंपा। भाजपा कार्यकर्ता ज्ञापन देने आए उस समय उपखंड अधिकारी कोर्ट में बैठकर सुनवाई कर रहे थे। सुनवाई के दौरान ही ज्ञापन देने के लिए कार्यकर्ता अन्दर घुस गए। जिस पर उपखण्ड अधिकारी ने भाजपा कार्यकर्ताओं से नाराजगी जताई।
उपखंड अधिकारी ने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा कि जब कोर्ट में सुनवाई के बाद चेम्बर में ज्ञापन लेने का संदेश पहुंचा दिया था, फिर भी कोर्ट में सुनवाई के बीच चले आए। ज्ञापन चेम्बर में ही लिया जाएगा। उसके बाद उपखंड अधिकारी कोर्ट से उठे और चेम्बर में पहुंचे तब ज्ञापन लिया गया। ज्ञापन में बताया कि राज्य सरकार ने पहले तो बिजली की दरें नहीं बढ़ाने की बात कही, उसके बाद वादा खिलाफी कर बिजली की दरों में बढ़ोतरी कर दी।
सरकार ने राजस्थान नियामक आयोग की सिफारिश पर एक फरवरी 2020 से राज्य में 15 से 25 प्रतिशत दरें बढ़ाने के आदेश जारी कर दिए। प्रति यूनिट 95 पैसे व फिक्स चार्ज में भी प्रतिमाह 115 रुपए की बढोतरी कर दी। इस दौरान भाजपा के जिला महामंत्री शक्तिसिंह आसावत, जिला उपाध्यक्ष सुरेन्द्र गोयल, नैनवां शहर अध्यक्ष पुखराज ओसवाल, नैनवां ग्रामीण मंडल अध्यक्ष सुरेन्द्र नागर, देई ग्रामीण मंडल अध्यक्ष कन्हैयालाल मीणा, महामंत्री दीक्षांत सोनी, शिवदत्त बैरागी, विष्णु दाधीच, सरपंच संघ के तहसील अध्यक्ष सत्यप्रकाश शर्मा, सरपंच रामलाल खींची, पार्षद रजनीश शर्मा, महेश गुर्जर, सत्यनारायण सैनी, भंवरसिंह सोलंकी, पूर्व प्रधान रामस्वरूप मीणा, पूर्व उपप्रधान जगदीश नागर आदि मौजूद थे।

BJP workers
pankaj joshi Photographer
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned