डटकर मुकाबला करें, इस लड़ाई को मिलकर जीतेंगे,जिला प्रभारी मंत्री ने की वीसी के जरिए हालातों की समीक्षा

जिला प्रभारी मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बूंदी जिले को अब तक कोरोना मुक्त रहते हुए ग्रीन जोन में बने रहने के लिए शाबाशी दी और बूंदी मॉडल की सराहना की।

By: pankaj joshi

Updated: 10 May 2020, 08:07 PM IST

डटकर मुकाबला करें, इस लड़ाई को मिलकर जीतेंगे,जिला प्रभारी मंत्री ने की वीसी के जरिए हालातों की समीक्षा
-ग्रीन जोन में बने रहने का बूंदी मॉडल सराहा, आगे की कार्य योजना बनाने के निर्देश
बूंदी. जिला प्रभारी मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बूंदी जिले को अब तक कोरोना मुक्त रहते हुए ग्रीन जोन में बने रहने के लिए शाबाशी दी और बूंदी मॉडल की सराहना की। प्रभारी मंत्री शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले में कोविड-19 की स्थितियों की विस्तार से समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बूंदी वालों की वर्किंग अच्छी रही। इसे लगातार जारी रखें।
जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिस तरह से जिले में अब तक कोरोना को एंट्री नहीं मिली, आगे भी इसी तरह डटकर मुकाबला करें।कोरोना को हराएं। इस लड़ाई को सब मिलकर जीतेंगे। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि आमजन की स्वास्थ्य सुरक्षा को सर्वोपरि रखते हुए लॉकडाउन एवं अन्य आवश्यक कदम उठाएं। आमजन भी पूरी पालना करें।कोई व्यक्ति या संगठन सोशल मीडिया या अन्य माध्यम से लोगों को भ्रमित करने या गलत माहौल बनाने की कोशिश करें तो यह उचित नहीं होगा। ऐसी प्रवृत्तियों को हतोत्साहित करना होगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि इस दौर में भी कोई भूखा नहीं रहे यह ध्यान रखें। कहीं से भी कोई जरूरतमंद भोजन के लिए आए तो उसको आवश्यक राशन सामग्री और भोजन व्यवस्था अवश्य मिले।
उन्होंने यह भी कहा कि श्रमिकों को समझाइश करते हुए अपने घरजाने की जल्दबाजी नहीं करने की सलाह दी जानी चाहिए, क्योंकि धीरे-धीरे स्थितियां सामान्य होने की ओर होंगी। ग्रीन जोन जिले में उद्योग व्यवसाय भी शुरू हो चुके, ऐसे में श्रमिकों का पलायन सही नहीं होगा। जिला प्रभारी मंत्री ने कहा की जिला प्रशासन लॉकडाउन खुलने के बाद की स्थितियों को लेकर अभी से कार्ययोजना बनाए। छोटे स्तर के काम धंधे, लघु उद्योग शुरू हों ताकि श्रमिकों को रोजगार मिले। साथ ही सरकारी कार्य भी शुरू हो जाएं और धीरे-धीरे स्थितियों को सामान्य लाने की कोशिश की जाए। जिला प्रभारी मंत्री ने आगामी दिनों में पेयजल संकट से निपटने की कार्य योजना की भी जानकारी ली।
जिला कलक्टर अंतर सिंह नेहरा ने बताया कि गर्मियों के मध्य नजर कंटीन्जेसी प्लान के तहत जल परिवहन के लिए आवश्यक कार्रवाई कर ली।सीइओ मुरलीधर प्रतिहार ने बताया कि नरेगा में लोगों को काम मिलना शुरू हो गया।
90.93 प्रतिशत राशन बूंदी बंटा
राशन वितरण की जानकारी पर कलक्टर नेहरा ने कहा कि राजस्थान में सर्वाधिक राशन वितरण 90.93 प्रतिशत बूंदी में हुआ। इसके अलावा जरूरतमंद लोगों के लिए पहले ही सभी जरूरी सामान युक्त किट दे दिए।फिर भी आवश्यकता पडऩे पर सूखे राशन किट की व्यवस्था कर दी जाएगी।
8 हजार वाहन किए जब्त
पुलिस अधीक्षक शिवराज मीना से उन्होंने कानून व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन की पालना कराने के दौरान 8 हजार वाहन जब्त किए। जिन्हें अब धीरे-धीरे छोडऩा शुरू कर दिया।10 लाख रुपए का जुर्माना भी किया गया।
---
कोविड-19: जांच में 531 सेंपल नेगेटिव
बूंदी. मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.एल. मीणा ने बताया कि अब तक 56 8 सेंपल लिए गए, इनमें 9 सेंपल रिजेक्ट होने के बाद 531 सेंपल नेगेटिव आ चुके। 28 सेंपल की रिपोर्ट अब आएंगी।शनिवार 12 सेंपल लिए गए।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned