डीएपी के लिए किसान परेशान, 5 घंटे तक करना पड़ा इंतजार

रबी की बुवाई का सीजन शुरू होते ही यहां किसानों को खाद के लिए परेशान होना पड़ रहा है। मंगलवार को आए दो ट्रक खाद को लेकर किसानों का हुजूम रामधन चौराहे पर एकत्रित हो गया और 5 घंटे की मशक्कत के बाद उनको अल्प मात्रा में खाद नसीब हुआ।

By: pankaj joshi

Published: 06 Oct 2021, 06:50 PM IST

डीएपी के लिए किसान परेशान, 5 घंटे तक करना पड़ा इंतजार
पुलिस की मौजूदगी में बंटे 4-4 कट्टे
लाखेरी. रबी की बुवाई का सीजन शुरू होते ही यहां किसानों को खाद के लिए परेशान होना पड़ रहा है। मंगलवार को आए दो ट्रक खाद को लेकर किसानों का हुजूम रामधन चौराहे पर एकत्रित हो गया और 5 घंटे की मशक्कत के बाद उनको अल्प मात्रा में खाद नसीब हुआ।
जानकारी के अनुसार बारिश के लंबे दौर के चलते इस बार क्षेत्र का अधिकांश रकबा खेत पड़त पड़े हुए है और रबी की मुख्य फसल सरसों की बुवाई का समय शुरू हो गया है। जिससे सरसों के बीज ऊंराई के साथ भूमि में ओरने वाले खाद डीएपी की मांग एकदम बढ़ गई है। सुबह 6 बजे करीब 2 ट्रक डीएपी खाद 460 कट्टे रामधन चौराहे से केशव क्रय विक्रय सहकारी समिति पर आए। जिसकी सूचना किसानों को मिलते ही क्षेत्र के दर्जनों गांव के किसान बड़ी संख्या में कॉलेज के सामने एकत्रित हो गए।
समिति व्यवस्थापक ने खाद देना शुरू किया तो पहले प्राप्त करने के चक्कर में किसान ने व्यवस्था को बिगाड़ दिया तो खाद का विक्रय बंद किया गया। दोपहर 12 बजे पुलिस की मौजूदगी में प्रति किसान 4-4 कट्टे का वितरण किया गया।
मांग की तुलना में आपूर्ति कम
जानकार सूत्रों के अनुसार इन दिनों डीएपी खाद की मांग बनी हुई है और सितंबर माह में 1870 कट्टों का ही वितरण हो पाया है। इससे 4 गुना डिमांड अभी भी बाकी है। अक्टूबर माह में मंगलवार को 460 कट्टे केशव क्रय विक्रय व 540 कट्टे निजी विक्रेताओं के यहां आने थे, जो सहकारी समिति के तो आ गए निजी दुकनदारों के नहीं आए।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned