विद्युत पोल से जमीन पर उतरा करंट, ग्रामीणों ने किया हंगामा

सदर थाना क्षेत्र के सिलोर गांव में सोमवार सुबह 11 केवी का जंपर विद्युत पोल के लगने से जमीन पर 11 केवी विद्युत करंट उतर गया।

By: pankaj joshi

Published: 21 Sep 2021, 06:40 PM IST

विद्युत पोल से जमीन पर उतरा करंट, ग्रामीणों ने किया हंगामा
सिलोर गांव का मामला : करंट की चपेट में आने से एक महिला झुलसी, एक भैंस की मौत
नमाना. सदर थाना क्षेत्र के सिलोर गांव में सोमवार सुबह 11 केवी का जंपर विद्युत पोल के लगने से जमीन पर 11 केवी विद्युत करंट उतर गया। जिससे वहां उपस्थित एक महिला सहित तीन भैंस करंट की चपेट में आ गई। महिला को उपचार के लिए बूंदी सामान्य चिकित्सालय में भर्ती करवाया। वहीं एक भैंस की मौके पर ही मौत हो गई। भैंस की मौत होने के बाद ग्रामीण विद्युत निगम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू कर मुआवजे की मांग करने लगे। विरोध प्रदर्शन की सूचना मिलते ही बूंदी तहसीलदार लक्ष्मीनारायण प्रजापत व सदर थाना प्रभारी संदीप शर्मा मौके पर पहुंचे और विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों की समझाइश की। झुलसी महिला के उपचार में आने वाले खर्च व भैंस की मौत के मुआवजा के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ। सिलोर सरपंच मुकेश सैनी ने बताया कि गांव में स्थित मालियों के मोहल्ले में सोमवार सुबह 9 बजे के लगभग विद्युत निगम के अधिकारियों ने टूटे हुए 11 हजार लाइन के तार में ही बिजली चालू कर दी। जिससे तार विद्युत पोल के टच होने से जमीन पर करंट उतर गया। विद्युत पोल से थोड़ी दूर खड़ी 3 भैंस करंट की चपेट में आ गई। जिससे एक भैंस की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं पास ही काम कर रही सिलोर निवासी संजू माली (35) पत्नी भंवरलाल भी करंट की चपेट में आ गई। जिससे वह अचेत हो गई। ग्रामीण उसे अचेत अवस्था में उपचार के लिए बूंदी अस्पताल ले गए। जहां महिला का उपचार जारी है।
सरपंच का कहना है कि एक साथ तीन दर्जन घरों में करंट उतर गया। जिसके चलते लोग घरों से बाहर निकल गए। वहीं घटना की सूचना मिलते ही पूरा गांव माली मोहल्ले में इक_ा होकर विरोध प्रदर्शन करने लगा। विरोध प्रदर्शन की सूचना मिलते ही मौके पर तहसीलदार व पुलिस निरीक्षक मौके पर पहुंचे व लोगों से समझाइश की। 3 घंटे की समझाइश के बाद लोगों ने हंगामा शांत किया। उधर विद्युत निगम का कहना है कि टूटे हुए तार में बिजली चालू नहीं की, बल्कि जंपर टूटने से वह पोल के टच हो गया। जिससे यह घटना हुई है।
गांव में निकल रही 11 केवी की लाइन को हटाए
सिलोर के लोगों ने सोमवार को विरोध प्रदर्शन करते हुए गांव में निकल रही 11 केवी विद्युत लाइन को हटाने की मांग की। तहसीलदार ने ग्रामीणों की मांग को विद्युत निगम के अधिकारियों को अवगत कराने का आश्वासन दिया। ग्रामीण उदय लाल गुर्जर, शिवराज, राधेश्याम मीणा, शंभू लाल ने बताया कि पूरे गांव की गलियों में होकर 11 केवी विद्युत लाइन निकाल रखी है। जिससे कई बार हादसे हो चुके हैं। ग्रामीण पहले भी कई बार विद्युत लाइन को हटाने की मांग कर चुके हैं, लेकिन अभी तक आश्वासन के सिवाय कुछ नहीं मिला है।
गांव में करंट से महिला के झुलसने व एक भैंस के मरने की जानकारी मिली थी। इस पर मौका स्थिति को देखने गया था। लोगों को समझाइश कर मामले को शांत कर दिया।
लक्ष्मीनारायण प्रजापत, तहसीलदार, बूंदी
टूटे तार में विद्युत आपूर्ति नहीं की गई। जंपर के टूटने से वह पोल के टच हो गया। जिसके बाद यह घटना हुई है। ग्रामीणों के टूटे हुए तार में विद्युत आपूर्ति करने का आरोप गलत है।
राजेंद्र मीणा, कनिष्ठ अभियंता, जयपुर विद्युत वितरण निगम बूंदी

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned