गुढ़ाबांध से किसानों को तीसरी बार मिलेगा पानी

हिण्डोली उपखंड क्षेत्र की लाइफ लाइन गुढ़ाबांध से क्षेत्र के किसानों को रबी की फसलों में सिंचाई के लिए तीसरी बार भी पानी मिल सकेगा।

By: pankaj joshi

Published: 23 Jan 2021, 08:28 PM IST

गुढ़ाबांध से किसानों को तीसरी बार मिलेगा पानी
फसलों को मिलेगी राहत, भू जलस्तर में होगी बढ़ोतरी
बड़ानयागांव. हिण्डोली उपखंड क्षेत्र की लाइफ लाइन गुढ़ाबांध से क्षेत्र के किसानों को रबी की फसलों में सिंचाई के लिए तीसरी बार भी पानी मिल सकेगा। क्षेत्र के किसानों को अब पानी मिलने से खेतों में खड़ी रबी की फसल को राहत मिलेगी। वहीं नहरों में जल प्रवाह होने से क्षेत्र में भूजल स्तर में बढ़ोतरी होने से गर्मी के दिनों में क्षेत्र के लोगों को पेयजल संकट से राहत मिलेगी। जल संसाधन विभाग की ओर से इस बार बांध पूरा लबालब नहीं भरने से केवल बांध में 29 फीट पानी होने से किसानों के लिए नहरों में दो चरणों में 60 दिन के लिए पानी छोडऩे का निर्णय किया था, लेकिन दोनों बार नहरों में एक-एक पखवाड़ा पानी चलने के बाद क्षेत्र में मावठ होने से नहरों के जल उपयोक्ता संगम अध्यक्षों की सहमति के बाद नहरों में जल प्रवाह बंद कर दिया था। जिसके बाद अब बांध में 22 फीट पानी बचा होने से क्षेत्र के किसानों की मांग के आधार पर विभाग की ओर से नहरों में तीसरी बार पानी छोडऩे की तैयारी की जा रही है। जल संसाधन विभाग के सूत्रों के मुताबिक बांध की दोनों मुख्य नहरों में आगामी सोमवार से पानी छोड़ा जाएगा। बांध में शेष बचे 22 फीट पानी में से 5 फीट पानी गर्मी में वन्यजीवों के लिए रिजर्व रखा जाएगा। बाकी पानी नहरों में सिंचाई के लिए छोड़ा जाएगा।
पिछले साल का रिजर्व पानी बना सहारा
गुढ़ाबांध में पिछले साल का रिजर्व पानी इस बार क्षेत्र के किसानों के लिए सहारा बना है। पिछले साल मानसून की मेहरबानी से बांध लबालब हो गया था। जिसके बाद किसानों को नहरों में तीन चरणों में करीब 90 दिन पानी छोडऩे के बाद बांध में शेष बचे 21 फीट पानी को विभाग ने रिजर्व रख दिया। इस बार मानसून की बेरुखी के चलते बांध मैं केवल 8 फीट पानी की आवक होने के साथ 34.50 फीट भराव क्षमता के बांध का जलस्तर 29 फीट हो पाया था। पिछले साल के रिजर्व पानी से इस बार किसानों को नहरों से पानी मिल रहा है, अगर बांध में रिजर्व पानी नहीं होता तो इस बार किसानों को सिंचाई के लिए पानी नहीं मिल पाता।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned