scriptदिन में लगाते है बजरी के ढेर, रात कर रहे परिवहन | Bundi News, Bundi Rajasthan News, Gravel, Illegal Mining, Transportation, Stone Cutting | Patrika News
बूंदी

दिन में लगाते है बजरी के ढेर, रात कर रहे परिवहन

चंबल नदी के किनारों से बजरी निकालने का खेल वर्षों से चलता आ रहा है। प्रतिबंध होने के बावजूद बजरी से भरी ट्रैक्टर ट्रॉलियां उपभोक्ताओं के पास पहुंचती है।

बूंदीJun 15, 2024 / 11:33 am

Narendra Agarwal

दिन में लगाते है बजरी के ढेर, रात कर रहे परिवहन

अवैध खनन

केशवरायपाटन. चंबल नदी के किनारों से बजरी निकालने का खेल वर्षों से चलता आ रहा है। प्रतिबंध होने के बावजूद बजरी से भरी ट्रैक्टर ट्रॉलियां उपभोक्ताओं के पास पहुंचती है।चंबल नदी जब राष्ट्रीय चंबल घडिय़ाल अभयारण क्षेत्र में आती थी, तब भी अवैध खनन होता था और अब रामगढ़ टाइगर रिजर्व में चली गई फिर भी निरंतर अवैध खनन हो रहा है। बूंदी एवं कोटा जिले के किनारों से प्रतिदिन 50 से 100 ट्रैक्टर ट्रॉली भरकर शहरों में जा रही है। अवैध बजरी का परिवहन रात के समय में करते है।
दिन में यह लोग चंबल से वह आसपास क्षेत्र से बजरी निकाल कर ढेर कर लेते हैं। क्षेत्र में सूनगर, बीरज क्षेत्र में बजरी के भंडारण क्षेत्र है। इन्द्रगढ़ कमलेश्वर ढीपरी तक चम्बल किनारे जगह-जगह बजरी का खनन किया जा रहा है। इस क्षेत्र में दो वृताधिकारी, उपखंड अधिकारी, तहसीलदार व आधा दर्जन पुलिस थाने पड़ते हैं, जिनके सामने से होकर यह ट्रैक्टर ट्रॉली निकलती है।
विधानसभा में गूंज उठ चुका है मामला
चंबल नदी के किनारे बजरी खनन एवं अरावली के पहाड़ों मे अवैध खनन पत्थरों की कटाई की आवाज विधायक सीएल प्रेमी ने विधानसभा में उठाई, लेकिन फिर भी प्रशासन सक्रिय नहीं हुआ है। विधानसभा में मामला उठाने के बाद भी इस अवैध कारोबार में अंकुश नहीं लग पाया।
करते हैं कार्यवाही
स्टाफ के अभाव से खनन कार्य को पर रोक नहीं लग पा रहे हैं। चोरी छुपे बजरी खनन की जा रही है। पर्याप्त संसाधन और स्टाफ मिले तो इसे बंद करने में मदद मिल सकती है।
शैतान राम, वनपाल, रामगढ़ टाइगर रिजर्व केशवरायपाटन
बेजाण नदी में हो रहा अवैध खनन
गोठड़ा. बेजाण नदी में अवैध खनन के चलते खोखली होती जा रही है। पंचायत प्रशासन एवं खनिज विभाग द्वारा ध्यान नहीं देने से बेजाण नदी से अवैध रूप से खनन कर रेत निकाली जा रही है। खनन माफिया द्वारा रेत का अवैध कारोबार कर चांदी कुटी जा रही है।
जानकारी अनुसार बेजाण नदी का पानी इन दिनों सूख गया है, जिससे अवैध खनन माफिया द्वारा रेत निकाली जा रही है। ग्रामीणों ने बताया कि कई बार खनन विभाग को शिकायत भी की गई, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। अवैध खनन कर रेत निकालने से नदी में की स्थानों पर गहरे गड्ढे हो गए हैं। ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से शीघ्र नदी में हो रहे अवैध खनन को बंद करवाने की मांग की है।

Hindi News/ Bundi / दिन में लगाते है बजरी के ढेर, रात कर रहे परिवहन

ट्रेंडिंग वीडियो