अवैध खनन कर बजरी-पत्थर ले जाने की बंधी के 14 हजार रुपए लेते देईखेड़ा थानाधिकारी रंगे हाथों गिरफ्तार

कोटा एसीबी टीम ने शनिवार शाम को बूंदी जिले के देईखेड़ा थानाधिकारी मुकेशी मीणा को 14 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

By: Narendra Agarwal

Published: 05 Sep 2020, 06:41 PM IST

बूंदी. कोटा एसीबी टीम ने शनिवार शाम को बूंदी जिले के देईखेड़ा थानाधिकारी मुकेशी मीणा को 14 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। थानाधिकारी ने यह राशि अवैध खनन कर ले जाने वाले वाहनों को छोडऩे की बंधी की एवज में ली थी।
प्रकरण के अनुसार कोटा एसीबी टीम को 3 सितम्बर को लिखित शिकायत मिली थी, जिसमें बताया था कि रैबारपुरा के निकट एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को थानाधिकारी मुकेशी मीणा ने पकड़ लिया। तब थानाधिकारी से ट्रैक्टर को छोडऩे की बात की तो उसने 1 लाख रुपए की रिश्वत मांगी। जब काफी निवेदन किया तो 40 हजार रुपए देने पर छोडऩे को राजी हुई। यह राशि थाने के ही कांस्टेबल कुलदीप को देने के लिए कह दिया। तब राशि लबान चौकी में मौजूद कांस्टेबल को दी। उसने दो ट्रैक्टर छोड़े, साथ ही एक ट्रैक्टर को चलाने के लिए हर माह बंधी 15 हजार रुपए अलग से निर्धारित कर ली। बंधी देने पर ही ट्रैक्टर चलाने की अनुमति दी। इस शिकायत का कोटा एसीबी टीम ने सत्यापन कराया। जब पुष्टि हुई तो उसे थाने के कक्ष में शनिवार को बंधी के 14 हजार रुपए लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। टीम ने थानाधिकारी की सरकारी गाड़ी से 14 हजार रुपए बरामद किए। कार्रवाई कोटा भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ठाकुर चंद्रशील कुमार के नेतृत्व में की गई।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned