बूंदी में 1.29 करोड़ की लागत से बदलेगी चार स्कूलों की सूरत

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयासों से बूंदी के चार राजकीय विद्यालयों की सूरत अगले एक साल में बदल जाएगी। प्रधानमंत्री जनविकास कार्यक्रम के तहत अल्पसंख्यक मंत्रालय चार स्कूलों में करीब 1.29 करोड़ की लागत से विकास कार्य करवाएगा।

By: pankaj joshi

Published: 15 Jun 2021, 09:28 PM IST

बूंदी में 1.29 करोड़ की लागत से बदलेगी चार स्कूलों की सूरत
लोकसभा अध्यक्ष बिरला के प्रयासों से प्रधानमंत्री जनविकास कार्यक्रम से होंगे कार्य
बूंदी. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयासों से बूंदी के चार राजकीय विद्यालयों की सूरत अगले एक साल में बदल जाएगी। प्रधानमंत्री जनविकास कार्यक्रम के तहत अल्पसंख्यक मंत्रालय चार स्कूलों में करीब 1.29 करोड़ की लागत से विकास कार्य करवाएगा।
बूंदी के कई राजकीय विद्यालयों में अतिरिक्त कक्षा-कक्षों के निर्माण की आवश्यकता के साथ मूलभूत सुविधाएं विकसित करने की भी जरूरत थी। इनके अभाव में विद्यार्थियों विशेषकर छात्राओं को परेशानी का सामना करना पड़ता था। कुछ विद्यालयों में पर्याप्त संख्या में कक्षा-कक्ष नहीं होने के कारण विद्यार्थियों को कहीं खुले में पढऩा पड़ता तो कहीं एक कक्ष में दो कक्षाएं लगती थीं।
इसकी जानकारी मिलने पर लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने इन सभी विद्यालयों से आवश्यकताओं की रिपोर्ट मांगी थी। विद्यालयों से मिली सूचना के आधार पर बिरला ने विकास कार्यों के प्रस्ताव तैयार करवाकर अल्पसंख्यक मंत्रालय को भिजवाए थे। मंत्रालय ने इन सभी प्रस्तावों को प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत स्वीकृति देते हुए चार विद्यालयों में 1.29 करोड़ के विकास कार्य करवाने के आदेश जारी कर दिए हैं।
आदेशों के अनुसार राजकीय माध्यमिक विद्यालय रजतगृह बूंदी में 66.05 लाख रुपए की लागत से दो कक्षा-कक्षों, एक पुस्तकालय कक्ष, एक आर्ट एंड क्राफ्ट कक्ष, एक साइंस लैब और दो शौचालयों का निर्माण करवाया जाएगा। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बालचंदपाड़ा में 37.48 लाख रुपए की लागत से तीन अतिरिक्त कक्षा-कक्षों व शौचालय का निर्माण करवाया जाएगा।
इसी प्रकार राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय कागजी देवरा में 16.86 लाख रुपए की लागत से दो अतिरिक्त कक्षा-कक्षों तथा राजकीय प्राथमिक विद्यालय इंद्रा कॉलोनी बूंदी में 8.43 लाख रुपए की लागत से एक अतिरिक्त कक्षा-कक्ष का निर्माण करवाया जाएगा। उक्त कार्यों की कार्यकारी एजेंसी समग्र शिक्षा अभियान (समसा) को बनाया गया है, यह सभी कार्य अगले एक वर्ष में पूरे करवाने होंगे।
बढ़ेगा सोच का दायरा, प्रयोग कर बेहतर समझ सकेंगे विज्ञान
बूंदी के चार विद्यालयों में विकास कार्यों की स्वीकृति जारी करवाने पर क्षेत्र के प्रबुद्धजन और शिक्षकों ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि स्कूल में पुस्तकालय बनने विद्यार्थियों को ख्यात लेखकों की पुस्तकें पढऩे को मिलेंगी जिससे उनकी सोच का दायरा बढ़ेगा। इसी तरह साइंस लैब में प्रयोग कर वे विज्ञान को बेहतर तरीके से समझ पाएंगे। आर्ट एंड क्राफ्ट कक्ष भी उनको अपनी सोच को ऊंची उड़ान देने का अवसर देगा।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned