ग्राम पंचायत में चरागाह विकास के हो कार्य, रोजगार को मिले बढ़ावा

ग्रामीण विकास विभाग की महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत जिला स्तरीय बंजर भूमि एवं चरागाह विकास समिति के सदस्यों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला मंगलवार को कलक्ट्रेट सभागार में हुई।

By: pankaj joshi

Published: 17 Mar 2021, 09:21 PM IST

ग्राम पंचायत में चरागाह विकास के हो कार्य, रोजगार को मिले बढ़ावा
बूंदी. ग्रामीण विकास विभाग की महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत जिला स्तरीय बंजर भूमि एवं चरागाह विकास समिति के सदस्यों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला मंगलवार को कलक्ट्रेट सभागार में हुई।
अध्यक्षता करते हुए जिला प्रमुख चद्रावती कंवर ने कहा कि पंचायतों में उपलब्ध चरागाह भूमि का विकास पंचायत के जन समूह की सामूहिक सहभागिता से विकसित की जाए। विभिन्न योजनाओं के तहत चरागाह भूमि का विकास करवाया जाए। जिला कलक्टर आशीष गुप्ता ने कहा कि जिले में प्रारंभिक 15 चरागाह विकास के कार्य मॉडल के रूप में विकसित किए जाए।
इस दौरान आइटीसी मिशन सुनहरा कल की शामलात की पुनस्र्थापना के लिए ग्रामीण समुदायों का क्षमतावर्धन कार्यक्रम के तहत एफइएस संस्था के कार्यक्रम समन्वयक उमेश पालीवाल ने पावर प्वॉइंट प्रजेन्टेशन के माध्यम से बिन्दुवार प्रशिक्षण दिया। वृत्ती संस्थान की राजस्थान समन्वयक ुपूनम कुलश्रेष्ठ ने ग्राम पंचायत स्तर तक कार्यक्रम को बढ़ावा देने के प्रावधानों की जानकारी दी। अधिशासी अभियंता इजीएस प्रियव्रत सिंह ने शामलात पहल तथा नरेगा योजना के तहत एक गांव चार काम के तहत करवाए जाने वाले कार्यों की विस्तृत जानकारी दी।इस दौरान उप प्रमुख बंशीलाल मीणा, बूंदी पंचायत समिति की प्रधान प्रेम बाई आदि मौजूद थे।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned