इंद्रदेव भी नहीं रोक सके 'बप्पा’ के भक्तों का उत्साह

आसमां से इंद्रदेव के बरसते तराने, नीचे भक्तों का बप्पा के विदा के पल, चहुंओर उत्साह, उमंग व गाजे बाजे के पग-पग निकलते विसर्जन जुलूस, गणपति बप्पा मोरया... अगले बरस तू जल्दी आ...के गूंजते जयकारे के बीच,नृत्य करते हुए चलते लोगों का उत्साह दोगुना हो गया।

By: pankaj joshi

Published: 20 Sep 2021, 07:19 PM IST

इंद्रदेव भी नहीं रोक सके 'बप्पा’ के भक्तों का उत्साह
मंगल मूर्ति के विजर्सन के जुलूस की धूम : धूमधाम से किया गणेश प्रतिमाओं का विसर्जन
बूंदी टीम. आसमां से इंद्रदेव के बरसते तराने, नीचे भक्तों का बप्पा के विदा के पल, चहुंओर उत्साह, उमंग व गाजे बाजे के पग-पग निकलते विसर्जन जुलूस, गणपति बप्पा मोरया... अगले बरस तू जल्दी आ...के गूंजते जयकारे के बीच,नृत्य करते हुए चलते लोगों का उत्साह दोगुना हो गया। इसके अलावा छोटी प्रतिमाओं को कहीं सिर पर बैठाकर कहीं ट्रैक्टर ट्रॉली तो कहीं मिनी मेटाडोर में तो कोई चौपहिया वाहनों में रखकर विसर्जन स्थल ले जाया गया। हर कोई बप्पा के रंग में रंगा हुआ नजर आया। अनंत चतुर्दशी के मौके पर जिलेभर में रविवार को गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन की धूम रही। भक्तों का यह उत्साह तेज बरसात भी रोक नहीं सकी। एक से पांच फीट तक की प्रतिमाओं का जलाशयों में विसर्जन किया गया। इससे पूर्व पूरे जोश व उत्साह के साथ गणेश प्रतिमाओं की पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद शहर के अलग-अलग भागों से गणेश प्रतिमाओं के विसर्जन के जुलूस निकाला गया। इस दौरान श्रद्धालुओं द्वारा गाजे-बाजे तथा डीजे पर जमकर नृत्य भी किया गया। वहीं महिलाएं भी विसर्जन में पीछे नहीं रही और डीजे पर गरबा एवं डांडिया भी किया। सुबह से ही विजर्सन शुरू हो गया, जो देर रात तक चलता रहा। शहर सहित जिलेभर के जलाशयों में विसर्जन के लिए प्रतिमाएं पहुंचती रही। जिससे विसर्जन स्थल पर चहल पहल रही।
प्रतिमाओं का किया पूजन
विसर्जन स्थल ले जाने के पूर्व गणेश प्रतिमाओं का पूजन हुआ व आरती के बाद प्रतिमाओं का विसर्जन के लिए रवाना किया गया। गणपति बप्पा मोरया से गूंजा विसर्जन स्थल, गाजे-बाजे के साथ बप्पा को विदाई दी गई। शहर के भूरा गणेश मंदिर पर गणेश महोत्सव द्वारा गणेश चतुर्थी पर स्थापित की गई गणेश प्रतिमा की रविवार को अनंत चतुर्दशी पर पूजा अर्चना के साथ पूर्णाहुति की गई। गणेश प्रतिमा की महाआरती की। गजानन के लड्डू का भोग भी लगाया और प्रसाद वितरित किया। इस दौरान महोत्सव समिति अध्यक्ष महावीर मोदी, प्रवक्ता अभिषेक जैन, विजयंत सिंह, समाजसेवी अशोक जैन, रोशन लाल भडक़त्या, मनोज गौतम, राजेश शेरगढिय़ा, राजकुमार शृंगी आदि मौजूद रहे। ग्रामीण क्षेत्रों में भी दिनभर उत्साह का माहौल रहा। घर-घर में स्थापित गजानन की प्रतिमाओं को तालाबों और नदियों तक जयकारों और भजनों की प्रस्तुतियों के बीच लाया गया, जहां प्रतिमाओं का विसर्जन किया।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned