रीट परीक्षा की तिथि बदलनेे को लेकर किया प्रदर्शन

संयुक्त मोर्चा जैन समाज के तत्वावधान में सकल जैन समाज ने 25 अप्रेल को महावीर जयंती के दिन होने वाली अध्यापक पात्रता रीट परीक्षा की तिथि परिवर्तन करने की मांग को लेकर जिला कलक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन किया।

By: Narendra Agarwal

Published: 19 Mar 2021, 06:05 PM IST

बूंदी. संयुक्त मोर्चा जैन समाज के तत्वावधान में सकल जैन समाज ने 25 अप्रेल को महावीर जयंती के दिन होने वाली अध्यापक पात्रता रीट परीक्षा की तिथि परिवर्तन करने की मांग को लेकर जिला कलक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन किया। जैन समाज के लोग रेडक्रॉस से नारेबाजी करते हुए रैली के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचे, जहां रीट परीक्षा की तिथि बदलने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में बताया कि जैन धर्म के 24 वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी के जन्म कल्याणक दिवस पर पूरे देश में सार्वजनिक अवकाश सरकार की ओर से रहेगा। अल्पसंख्यकों के जैन समुदाय का एकमात्र राष्ट्रीय पर्व जिसे सरकार की ओर से सार्वजनिक अवकाश घोषित होने के बाद भी राजस्थान सरकार की ओर से अध्यापक पात्रता परीक्षा रीट-2021 का आयोजन कराने जा रही है। जिससे जैन धर्म के लाखों श्रद्धालु युवाओं, शिक्षकों की भावनाएं आहत हुई है। सकल जैन समाज में रोष व्याप्त है। जैन समाज के लोगों ने जयंती के मौके पर परीक्षा कराने के निर्णय का विरोध जताया। सरावगी समाज युवा संगठन के अध्यक्ष लोकेश जैन ने ज्ञापन पढकऱ सुनाया। इस दौरान समाज के अध्यक्ष ओमप्रकाश बडजात्या, मंत्री राजेंद्र छाबड़ा, श्रीमाल समाज के संभागीय अध्यक्ष संजय जैन, जिला सरावगी समाज के मंत्री संतोष पाटनी, दिलीप बाकलीवाल, महेश पाटोदी, सुमति प्रकाश जैन, सुरेंद्र छाबड़ा, नितिन चंादवाड़, नवनीत जैन, अरुण नोसंदा, ममता जैन, अर्चना जैन आदि शामिल थे। इसके बाद संयुक्त मोर्चा जैन समाज की बैठक हुई। जिसमें आगामी रणनीति पर विचार-विमर्श किया।
नैनवां. महावीर जयंती के दिन 25 अप्रेल को आयोजित होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) की तिथि में परिवर्तन करने की मांग को लेकर सकल जैन समाज नैनवां के तत्वावधान में जैन समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन उपखंड अधिकारी को दिया। ज्ञापन में लिखा कि महावीर जयंती को पूरे देश भर में अवकाश होने के बावजूद भी राज्य सरकार द्वारा राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा का आयोजन किया है। महावीर जयंती पर परीक्षा होने के कारण जैन समाज का एक बहुत बड़ा वर्ग परीक्षा देने एवं समाज से जुड़े शिक्षक परीक्षा कराने में व्यस्त रहेंगे। ज्ञापन देने वालों में अंशुल मोडिका, राजेश मित्तल, अनिल मित्तल, शैलेन्द्र मारवाड़ा, अनिल गोयल आदि शामिल थे।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned