जयकारों के बीच निकली गंगाजल यात्रा

पिछले 14 वर्षों से रेतवाली महादेव मंदिर से श्रावण मास में निकलने वाली कावड़ यात्रा के लिए गुजरात की नर्मदा व ताप्ती नदियों के पावन जल को शोभायात्रा के रूप में बूंदी लाया गया।

By: pankaj joshi

Published: 13 Aug 2019, 08:45 PM IST

बूंदी. पिछले 14 वर्षों से रेतवाली महादेव मंदिर से श्रावण मास में निकलने वाली कावड़ यात्रा के लिए गुजरात की नर्मदा व ताप्ती नदियों के पावन जल को शोभायात्रा के रूप में बूंदी लाया गया। शिव कीर्तन मंडल व शिव महिला मंडल के संरक्षक शोभाराम गुलाबवानी ने बताया कि विगत 14 वर्षों से श्रावण मास के अंत में शहर के लंका गेट रेतवाली महादेव मंदिर से कावड़ यात्रा निकाली जाती है। जिसके लिए गुजरात की नर्मदा व ताप्ती नदियों के पवित्र जल को बूंदी लाया जाता है तथा इसी जल से बुधवार को कावड़ यात्रा निकालकर रामेश्वर महादेव स्थित भोलेनाथ के शिवलिंग का जलाभिषेक किया जाता है। जिसकी शुरुआत जिला कलक्टर द्वारा की जाएगी। मंगलवार को सूरत से नदियों के जल को बूंदी लाया गया। जहां बस स्टैंड माता के मंदिर से भव्य शोभायात्रा के रूप में जल को शहर के मुख्य मार्गो से होते हुए रेतवाली महादेव मंदिर लंकागेट लाया गया। पूजा अर्चना के साथ शोभायात्रा सम्पन्न हुई। इस अवसर पर रेेेतवाली महादेव मंदिर अध्यक्ष सत्यनारायण सोमानी कालू कटारा, पूर्व उपसभापति संतोष कटारा, शिव कीर्तन मंडल व शिव महिला मंडल के सदस्य व महिलाओं सहित बड़ी संख्या में शहर के गणमान्य लोग व भक्तगण मौजूद रहे।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned