scriptBundi News, Bundi Rajasthan News,life in failure,it's like,prickling a | Prime Minister's Housing Scheme : मुफलिसी में जी रहे जिंदगी तो नश्तर सी चुभ रही हवा | Patrika News

Prime Minister's Housing Scheme : मुफलिसी में जी रहे जिंदगी तो नश्तर सी चुभ रही हवा

प्रधानमंत्री आवास योजना की आवास सॉफ्ट पोर्टल में लाभार्थियों के नाम भी उसी तरह गायब हो रहे हैं, जैसे जनप्रतिनिधियों के वादे और प्रशासन के दावे गायब हो जाते हैं।

बूंदी

Published: January 05, 2022 08:37:41 pm

Prime Minister's Housing Scheme : मुफलिसी में जी रहे जिंदगी तो नश्तर सी चुभ रही हवा
कड़ाके की सर्दी में टापरी में रहने को मजबूर वंचित लाभार्थी
जजावर. प्रधानमंत्री आवास योजना की आवास सॉफ्ट पोर्टल में लाभार्थियों के नाम भी उसी तरह गायब हो रहे हैं, जैसे जनप्रतिनिधियों के वादे और प्रशासन के दावे गायब हो जाते हैं। नैनवां उपखंड के जजावर पंचायत के मजरा बंजारों की ढाणी में रहने वाले परिवार कड़ाके की सर्दी में टापरी में रहने को मजबूर है, लेकिन सुध लेने वाला कोई नहीं है।

,
Prime Minister's Housing Scheme : मुफलिसी में जी रहे जिंदगी तो नश्तर सी चुभ रही हवा,Prime Minister's Housing Scheme : मुफलिसी में जी रहे जिंदगी तो नश्तर सी चुभ रही हवा

आधा दर्जन से भी अधिक रहते हैं टापरी में
बंजारों की ढाणी मजरे में आधा दर्जन से अधिक परिवार टापरी में रहने को मजबूर हैं। हालांकि इनका नाम पंचायत प्रशासन के पास स्थित सूची में दर्ज है, लेकिन प्रधानमंत्री आवास योजना के आवास सॉफ्ट वेब पोर्टल पर इनका नाम गायब होने से यह लोग टापरी में रहने को मजबूर हैं। विदित रहे कि नैनवां उपखंड में 33 पंचायतों में दस हजार 62 लोग तकनीकी खामी के चलते इस योजना का लाभ लेने से वंचित हैं।

दो समय का पेट भरना भी मुश्किल
वंचित लाभार्थी महिला सुवाबाई ने बताया कि एक ओर तो गरीबी में दो समय पेट भरना भी मुश्किल हो रहा है। वहीं इस कड़ाके की सर्दी में टापरी में तेज सर्दी का अहसास होता है। इधर ग्रामीणों का कहना है कि कई लोगों के नाम जो पात्र होने के बावजूद लिस्ट में नहीं है। एक बार वास्तविक स्थिति का अवलोकन कर सर्वे करना चाहिए।

केस 1
प्रभु लाल के परिवार के आठ सदस्य एक छोटी सी टापरी में अपना जीवन यापन करते हैं। प्रभु लाल ने बताया कि परिवार में पति पत्नी, तीन पुत्र, दो बहुएं व एक पौत्र मिलाकर आठ सदस्य है। सर्दी, गर्मी या फिर बरसात, इसी टापरी में जीवन निर्वाह कर रहे है। टापरी की दीवारे घास फंूस आदि की बनी हुई है। जिनमें आसानी से हवा आर पार आती है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत रहने का ठिकाना मिल जाए तो गरीब परिवार को इस टापरी में रहना नहीं पड़ेगा।

केस 2
विधवा कैलाशी बाई के पति की कई वर्षों पहले मौत हो गई। उसके बाद बड़े पुत्र महेंद्र की भी 2018 में सडक़ दुर्घटना में मौत हो गई। एक बेटे बहु के साथ ही टापरी में रहती हैं। पिछली दीपावली के दिन इस टापरी में आग लग गई। बड़ी मुश्किल से दुबारा टापरी तैयार की। प्रधानमंत्री आवास योजना में नाम होने की जानकारी मिली है, लेकिन जानकारी के अलावा कुछ नहीं मिला।

दिक्कत आ रही है
नैनवां उपखंड में आवास सॉफ्ट पोर्टल बंद होने की वजह से दिक्कत आ रही है। जैसे ही पोर्टल चालू होगा। पात्र लाभार्थियों को आवास दिलवाया जाएगा।
श्योराम, उपखंड अधिकारी, नैनवां

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Uttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानाNeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछNeoCov: नियोकोव वायरस के लक्षण, ठीक होने की दर, जानिए सबकुछएनसीसी रैली में बोले पीएम मोदी- महिलाओं को सेना में मिल रही बड़ी जिम्मेदारियांUP Assembly elections 2022: पहले आप-पहले आप में फंसी बनारस-गोरखपुर की सीट, कांग्रेस, सपा को बीजेपी के पत्ते खोलने का इंतजारUP Assembly Elections 2022 : फिर दो जन्मतिथि को लेकर विवादों में घिरे अब्दुल्ला आजम, तो क्या नहीं लड़ सकेंगे चुनावUttarakhand Election 2022: रुद्रप्रयाग में अमित शाह ने पूछा, कैसी सरकार चाहिए, विकास या भ्रष्टाचार वाली?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.