प्रधानमंत्री के नाम जिला कलक्टर को सौंपा पत्र, एफआइआर के लिए थाने पहुंचे

नरसिंघा नंद सरस्वती के प्रेसवार्ता में हजरत मोहम्मद साहब के खिलाफ की गई टिप्पणी के विरोध में मुस्लिम समाज ने यहां प्रधानमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।

By: Narendra Agarwal

Updated: 06 Apr 2021, 06:33 PM IST

बूंदी. नरसिंघा नंद सरस्वती के प्रेसवार्ता में हजरत मोहम्मद साहब के खिलाफ की गई टिप्पणी के विरोध में मुस्लिम समाज ने यहां प्रधानमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। बाद में पुलिस थाने में रिपोर्ट दी।
शहरकाजी मौलाना गुलामे गोस की अगुवाई में सौंपे ज्ञापन में बताया कि नरसिंघा नंद सरस्वती ने प्रेसवार्ता करके जिस भाषा का उपयोग किया वह कतई उचित नहीं। ऐसे में सख्त कार्रवाई होनी चाहिए, ताकि कोई भी व्यक्ति किसी धर्म व महापुरुषों के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं करें। इस दौरान हाजी नुरुद्दीन, मौलाना असलम, मेहमूद अली, मौलाना सईद अख्तर नूरी, मौलाना असगरुल कादरी, मौलाना शाह आलम, मौलाना हाफिज जमील कारी मंसूर, एडवोकेट शकील अहमद, हैदरअली आदि मौजूद थे। बाद में कोतवाली थाना पुलिस को रिपोर्ट सौंपी।
इधर, हिलाल कमेटी सरपरस्त मौलाना निजामुद्दीन की सरपरस्ती में जिला कलक्टर को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। बाद में कोतवाली थाने में पहुंचकर रिपोर्ट सौंपी। मौलाना निजामुद्दीन ने कहा कि फिलहाल के दिनों में कुछ लोग मुल्क के अमन और शांति के लिए खतरा बन रहे हैं। यह लोग सस्ती शोहरत हासिल करने के लिए इस्लाम, कुरआन शरीफ और पैगम्बर-ए-इस्लाम पर गलत बयानबाजी कर रहे हैं। इस्लाम के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग कर मुल्क में कुछ लोग अराजकता का माहौल पैदा कर रहे हैं। ऐसे लोग समाज ही नहीं बल्कि मुल्क की एकता और भाईचारे के भी दुश्मन है। नरसिंघा नंद सरस्वती के खिलाफ हुकूमत संज्ञान लेकर सख्त कार्रवाई करें। मौलाना आलम रजा गौरी, पार्षद मोइनुद्दीन अंसारी, इरफान अंसारी, हिलाल कमेटी प्रवक्ता मौलाना नूर मोहम्मद कादरी, बिलाल अत्तारी, शकील अत्तारी, शोएब अत्तारी, नदीम अंसारी, जिलानी अंसारी, आसिफ अंसारी, अनवर अंसारी, शाहिद अंसारी, नफीस मदनी, शाहरुख अत्तारी मौजूद थे।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned