माइनरों की नहीं हुई खुदाई, एक दर्जन से अधिक गांव नहरी पानी से वंचित

चाकन लघु सिंचाई परियोजना के बांध का पानी करीब एक दर्जन से अधिक गांवों के किसानों के खेतों तक पांच साल में भी नहीं पहुंच पाया है।

By: pankaj joshi

Published: 08 Dec 2019, 06:25 PM IST

माइनरों की नहीं हुई खुदाई, एक दर्जन से अधिक गांव नहरी पानी से वंचित
इंद्रगढ़. चाकन लघु सिंचाई परियोजना के बांध का पानी करीब एक दर्जन से अधिक गांवों के किसानों के खेतों तक पांच साल में भी नहीं पहुंच पाया है। सिंचाई विभाग ने गांवों में स्थित माइनरों की खुदाई नहीं की और कुछ माइनरों को आधे-अधूरा खोदकर छोड़ दिया। इससे गांवों में पानी नहीं पहुंचा। किसानों को मजबूरन नलकूपों, कुआं आदि से डीजल इंजन से खेतों में रेलना करना पड़ रहा है। भारतीय किसान यूनियन के संभागीय महामंत्री शंकर बैरवा ने बताया कि चाकन बांध से क्षेत्र के 50 से भी अधिक गांवों के किसानों को नहरी पानी मुहैया कराना था। बांध से वर्ष 2015 मेंं नहर शुरू हो गई थी, लेकिन क्षेत्र के रामनगर, केमलिया, रामपुरिया, पीचूपुरा, कॉल आसपुरा, केशवपुरा, पापड़ा, गेंदापुरा, श्योगंज, आमलीखेड़ा, लक्ष्मीपुरा, नवलपुरा, अभयपुरा आदि गांवों में माइनर आधे-अधूरे खोद कर छोड़ दिए, जिससे नहरी पानी एक बार भी किसानों के खेतों तक नहीं पहुंच पाया। भाजपा इंद्रगढ़ ग्रामीण मंडल महामंत्री हिम्मत सिंह हाड़ा ने मुख्यमंत्री व जिला कलक्टर को पत्र लिखकर वंचित किसानों को नहरी पानी उपलब्ध कराने की मांग की।

Show More
pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned