श्रमिकों के लिए कोरोना संकट में मनरेगा बनी सहारा

कोरोना महामारी के चलते बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। ऐसे में जजावर सहित आसपास के क्षेत्र में मनरेगा से मिल रहा रोजगार लोगों के लिए संकटमोचक साबित हो रहा है।

By: Narendra Agarwal

Published: 24 May 2020, 10:26 AM IST

जजावर. कोरोना महामारी के चलते बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। ऐसे में जजावर सहित आसपास के क्षेत्र में मनरेगा से मिल रहा रोजगार लोगों के लिए संकटमोचक साबित हो रहा है। लॉकडाउन के कारण दिल्ली, मुंबई, जयपुर आदि शहरों से गांवों की तरफ लौटे प्रवासी मजदूरों के लिए अब संकट की घड़ी में मनरेगा मददगार बनकर उभरी है। शहरों से लौटे मजदूरों ने पत्रिका को बताया कि लंबे समय तक कोरोना का डर है और इस डर के बीच में उसे गांव से निकलने में अपने और परिवार के लोगों की जीवन की चिंता सताने लगी है। ऐसे में घर पर खेती से बहुत ज्यादा कुछ उम्मीद नहीं है। केवल अब सरकार की मनरेगा योजना के तहत ही कामकाज और आजीविका चल पाएगी।

ढाई हजार लोगों को मिल रहा रोजगार
कोरोना महामारी के बाद पूरे देश में जारी लॉकडाउन से लोगों के सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है। इसमें मनरेगा योजना ही एकमात्र लोगों की सहायक बनी हुई है। आंकडों की बात करें तो जजावर, सीसोला व बाछोला पंचायत में ढाई हजार से अधिक लोगों को मनरेगा से रोजगार मिला हुआ। इसमें जजावर पंचायत में 1485, सीसोला पंचायत में 539 व बाछोला पंचायत में 459 लोगों को काम मिल रहा है। हालांकि तीनों पंचायत में आबादी के लिहाज से जो जारी काम है, वो काफी कम है।

गांवों में लाना होगा विकास
कोरोना से शहर से रोजगार कर रहे लोग गांवों में आने लगे हैं और रोजगार को लेकर भागदौड़ कर रहे हैं। क्षेत्र के प्रबुद्ध लोगों ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते पूरा विश्व आर्थिक संकट से जूझ रहा है। यही वह वक्त है जब हमें अपने ग्रामीण इलाकों को अर्बनाइजेशन के पैटर्न पर डेवलप कर सकते हैं। अगर छोटी-छोटी इंडस्ट्रीज को दस बीस गांव के बीच में एक छोटे से क्लस्टर में बनाकर लगाया जाए। जैसे स्पेशल इकॉनोमिक जोन बनाए जाते हैं, वैसे ही स्पेशल विलेज इंडस्ट्रीज जोन बनाए जाएं।

कोरोना के दौर में मनरेगा में कार्य करने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। इसके लिए पंचायत प्रशासन भी समय समय पर जानकारी दे रहे हैं। इसी के साथ दूरी बनाकर ही कार्य सम्पन्न करवाया जा रहा है। इस दौरान मास्क का प्रयोग करने पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है।
रामप्रकाश धाकड़, सरपंच संघ अध्यक्ष, नैनवां तहसील व जजावर सरपंच

Show More
Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned