पुलिस ने समझाइश कर मृत्युभोज रोका

थाना क्षेत्र के करजूना गांव में रविवार को मृत्यु भोज नहीं करने को लेकर पुलिस ने समझाइश की। 1 घंटे की समझाइश के बाद परिजन मृत्यु भोज नहीं करने को लेकर राजी हो गए।

By: Narendra Agarwal

Published: 13 Jul 2020, 12:25 PM IST

नमाना. थाना क्षेत्र के करजूना गांव में रविवार को मृत्यु भोज नहीं करने को लेकर पुलिस ने समझाइश की। 1 घंटे की समझाइश के बाद परिजन मृत्यु भोज नहीं करने को लेकर राजी हो गए। नमाना पुलिस के सहायक उप निरीक्षक लादूराम मीणा ने बताया कि करदोना निवासी दलीचंद मीणा की मौत 12 दिन पहले हुई थी। जिसका रविवार को मृत्यु भोज का कार्यक्रम था। इसी के तहत शनिवार रात को सभी परिजनों को मृत्यु भोज नहीं करने के लिए पाबंद किया गया था, लेकिन रविवार को आशंका के चलते नमाना पुलिस सुबह 10 बजे ही मृतक दलीचंद के घर पहुंच गई व परिजनों को मृत्यु भोज नहीं करने के लिए समझाइश करती रही। 1 घंटे की समझाइश के बाद मृतक के परिजन भी मृत्यु भोज नहीं करने के लिए राजी हो गए। उसके बाद नमाना पुलिस सभी लोगों को पाबंद कर लौट आई।


प्रभारी मंत्री को बताया
बूंदी. जिला चिकित्सालय के चार कार्मिकों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के पूरे मामले की भाजपा नेता रूपेश शर्मा ने बूंदी के प्रभारी मंत्री को पूरी जानकारी दी। शर्मा ने प्रभारी मंत्री को बताया कि कोरोना को लेकर जिला चिकित्सालय प्रशासन कतई गंभीर नहीं। जो डाक्टर सेंपल ले रहे वह आउटडोर में मरीजों को देख रहे। एक साथ चार जनों के संक्रमित होने का कारण भी चिकित्सालय प्रशासन की लापरवाही रहा। उन्होंने व्यवस्थाओं में सुधार की मांग की।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned