पार्षदों को बढ़ा कुनबा तो छोटा पडऩे लगा सभाभवन

नगरपालिका में वार्ड पार्षदों की संखया बढने से सभाभवन में बैठक आयोजित नहीं हो सकेगी। आगामी दिनों में बोर्ड बैठक खुले में या अन्य स्थान पर आयोजित हो सकेगी।

By: Narendra Agarwal

Published: 12 Feb 2021, 04:27 PM IST

लाखेरी. नगरपालिका में वार्ड पार्षदों की संखया बढने से सभाभवन में बैठक आयोजित नहीं हो सकेगी। आगामी दिनों में बोर्ड बैठक खुले में या अन्य स्थान पर आयोजित हो सकेगी। जानकारी के अनुसार 2021 में हुए पालिका चुनाव में 35 वार्ड पार्षद चुनकर आए हैं। पालिका कार्यालय में ऊपरी तल पर बना सभाभवन छोटा है। जिस समय उसका निर्माण हुआ था, उस समय उसमें 15-16 पार्षद बैठने की व्यवस्था थी। भविष्य के अनुमान को ध्यान रखते हुए उसमें 20 पार्षद आराम से बैठ सकते थे। पिछले बोर्ड में 25 पार्षद चुन कर आए थे। 25 पार्षदों के साथ होने वाली बोर्ड बैठक सभाभवन में ही होती थी, लेकिन उसमें जगह की तंगी महसूस की जाती थी। सहवरित पार्षदों के होने पर तो सभाभवन ठसाठस भर जाता था।
अब वर्तमान में 35 पार्षद चुनकर आए हैं। ऐसे में उनके बैठने को लेकर संशय बना हुआ है। इसके चलते आगामी दिनों में होने वाली बोर्ड बैठक खुले में या अन्य स्थान पर हो सकेगी। बाहर बैठक आयोजित करने में कई समस्याएं उत्पन्न होती है। पार्षदों के सवाल जवाब करने के दौरान फाइलें व दस्तावेज लाने में काफी समय लगता है। ऐसे में पालिका प्रशासन द्वारा नया सभा भवन बनाना पड़ेगा। वर्तमान भवन तकनीकी रूप से इतना मजबूत नहीं है कि इस पर तोडफ़ोड़ कर निर्माण कराया जा सके।

नहीं की पूर्व तैयारी
नगरपालिका के 2019 में हुए सीमांकन के दौरान 35 वार्डों का निर्धारण हो गया था। पालिका प्रशासन व उस समय के जनप्रतिनिधियों ने 35 पार्षदों के बैठने के हिसाब से बैठक आयोजित करने के स्थान का निर्धारण नहीं किया जबकि इस दौरान कस्बे में करोड़ों रुपए विकास कार्य में खर्च किए। जिनमें अधिकांश तो जन चर्चा के अनुसार बेमतलब के हो रहे है। अब बोर्ड बैठक में स्थान की तंगी होने पर स्थानों की तलाश की जा रही है या वर्तमान भवन में कुछ परिवर्तन के साथ बैठक आयोजित करने का स्थान बनाया जा सके।

बाहर होगी बैठक
पालिकाध्यक्ष आशा शर्मा ने बताया कि पालिका सभा भवन छोटा होने से उसमें बैठक नहीं हो सकेगी। पालिका बोर्ड की बैठक धर्मशाला में आयोजित की जाएगी। सभी पार्षदों से राय लेकर बोर्ड बैठक आयोजित करने के नए स्थान का उचित निर्णय किया जाएगा। इस संबंध में अधिशासी अधिकारी जितेंद्र मीणा ने बताया कि वर्तमान सभा भवन छोटा है। उसके बाहर बैठक हो सकती है। बैठक कहां होगी, इसके बारे में पालिकाध्यक्ष व पार्षद निर्णय करेंगे।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned