जिले के 588 आंगनबाड़ी केंद्रों की सुधरेगी दशा

बूंदी जिले के 588 आंगनबाड़ी केंद्रों की सूरत सुधरेगी। इन आंगनबाड़ी केंद्रों में एबीएल कक्ष विकसित किए जाएंगे। जानकारी के अनुसार काफी समय से उपेक्षित पड़े आंगनबाड़ी केंद्रों के सार संभाल व आधुनिक बनाने के लिए राज्य सरकार ने आदेश जारी किए हैं।

By: pankaj joshi

Published: 06 Jan 2021, 09:14 PM IST

जिले के 588 आंगनबाड़ी केंद्रों की सुधरेगी दशा
हिण्डोली. बूंदी जिले के 588 आंगनबाड़ी केंद्रों की सूरत सुधरेगी। इन आंगनबाड़ी केंद्रों में एबीएल कक्ष विकसित किए जाएंगे। जानकारी के अनुसार काफी समय से उपेक्षित पड़े आंगनबाड़ी केंद्रों के सार संभाल व आधुनिक बनाने के लिए राज्य सरकार ने आदेश जारी किए हैं। जो केंद्र सरकारी विद्यालयों के अंतर्गत आते हैं। जहां प्रति आंगनबाड़ी केंद्र दो हजार पांच सौ पच्चास रुपए खर्च किए जाएंगे। जिसमें ब्लैकबर्ड, रंग रोगन एवं डिजिट ग्रीन बोर्ड विकसित करवाए जाएंगे। इसके अलावा एक फर्म द्वारा डिजिटल वॉल पेंटिंग एवं फ्लेक्स विद फेम स्थापित किए जाएंगे। जिसके आदेश जारी कर दिए गए हैं।
यहां तैयार होंगे एबीएल कक्ष
हिण्डोली क्षेत्र में 121 आंगनबाड़ी, बूंदी में 99, केशोरायपाटन में 156 नैनवां में 138 व तालेड़ा में 74 आंगनबाड़ी केंद्रों में भौतिक रूप से समन्वित किए जाएंगे।
उच्च अधिकारियों को आदेश मिले हैं की सरकारी स्कूलों में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्र वह मॉडल स्कूलों में एबीएल कक्ष के लिए प्रति छात्र 2 हजार 550 खर्च होंगे। सभी पंचायत पदेन अधिकारियों से कक्ष तैयार करने को कहा गया है।
रामलाल मीणा, अतिरिक्त मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी हिण्डोली

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned