अधिकारी दौड़े समाधान को, ग्रामीणों में दिखी नाराजगी

कस्बे में पेयजल आपूर्ति के लिए लगी मोटर में बार बार तकनीकी खराबी के चलते पेयजल सप्लाई बाधित हो रही है। जिसके चलते ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

By: pankaj joshi

Published: 24 Oct 2020, 07:17 PM IST

अधिकारी दौड़े समाधान को, ग्रामीणों में दिखी नाराजगी
मोटर में बार बार तकनीकी खराबी
जजावर. कस्बे में पेयजल आपूर्ति के लिए लगी मोटर में बार बार तकनीकी खराबी के चलते पेयजल सप्लाई बाधित हो रही है। जिसके चलते ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पेयजल समस्या को समाधान करने को लेकर जलदाय विभाग कनिष्ठ अभियंता मनोज नागर पहुंचे। जहां ग्रामीणों ने कनिष्ठ अभियंता से नाराजगी व्यक्त की। ग्रामीणों ने बताया कि पेयजल रिवाईजेज योजना के तहत 2 करोड़ 66 लाख की पेयजल योजना होने के बावजूद लगातार परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अभी भूजलस्तर भी काफी ठीक है।
मौके पर लगवाई टोटियां
कनिष्ठ अभियंता नागर ने समस्याग्रस्त मोहल्ले में जाकर मौका मुआयना किया। जहां उपभोक्ताओं ने नल कनेक्शन लेकर टोटियां भी नहीं लगा रखी थी। इस पर नागर ने उपभोक्ताओं को तुरंत टोटियां लगवाने को कहा। उन्होंने कहा कि टोटियां नहीं लगवाने पर मजबूरन विभाग को कनेक्शन काटना पड़ेगा।
आखिर आज ही पानी क्यों आया
इधर जब अभियंता मौका मुआयना के लिए पहुंचे तो ग्रामीणों ने कहा कि आखिर क्या कारण है कि आज नलों में पानी ठीक आया। जबकि अन्य दिनों तक नलों का पानी ठीक तक घरों तक पहुंचता ही नहीं था। गौरतलब है कि कस्बे में तकनीकी खराबी के चलते पेयजल संकट बाधित की समस्या को राजस्थान पत्रिका ने समय-समय पर प्रमुखता से उठाया है।
पेयजल समस्या का समाधान की पुरजोर कोशिश है। वाल्व की सेटिंग्स दुबारा की गई है। जिसके बाद पानी के दबाव में फर्क नजर आया। इससे पानी की समस्या के समाधान की पूरी संभावना है।
मनोज नागर, कनिष्ठ अभियंता ,जलदाय विभाग ,नैनवां

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned