मेज नदी पर सुरक्षा दीवार की दरकार

क्षेत्र के ग्राम पंचायत अलोद में मेज नदी के किनारे सुरक्षा दीवार नहीं बनाने से बारिश में लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है।
लोगों ने बताया कि अलोद कस्बे में मेज नदी के बायपास के ऊपर वर्षों से सुरक्षा दीवार की दरकार है।

By: pankaj joshi

Published: 13 Jun 2021, 09:17 PM IST

मेज नदी पर सुरक्षा दीवार की दरकार
हिण्डोली. क्षेत्र के ग्राम पंचायत अलोद में मेज नदी के किनारे सुरक्षा दीवार नहीं बनाने से बारिश में लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है।
लोगों ने बताया कि अलोद कस्बे में मेज नदी के बायपास के ऊपर वर्षों से सुरक्षा दीवार की दरकार है। सुरक्षा दीवार नहीं बनने से बारिश में नदी उफान पर आने से पानी ऊपर आ जाता है एवं यहां बने मकानों के पत्थर गिरते हैं। कई बार मकान गिरने का खतरा बना रहता है।

 


अवैध कनेक्शन हटाए
नैनवां. पाईबालापुरा पेयजल योजना से नैनवां आ रही मुख्य पाइप लाइन से ही गुरजनिया गांव के पास अवैध कनेक्शन कर लिए। जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियंता डीपी चौधरी ने बताया कि मुख्य पाइप लाइन 6 फीट भूमिगत होने के बाद भी इतनी गहराई तक खुदाई करके अवैध कनेक्शन कर लिए। शनिवार को बुलडोजर से खुदाई करवाकर दिखवाया तो 6 अवैध कनेक्शन मिले। अवैध कनेक्शन हटाकर उनके पाइप व अन्य सामान जब्त किए है।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned