पालनहार की मौत पर करेंगे आर्थिक मदद, ताकि कोई असहाय महसूस नहीं करें

राजस्थान पत्रिका के ‘महामारी से महामुकाबला’ अभियान से जुडकऱ नैनवां के दो सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश जोशी व जोनी मारवाड़ा ने जरूरतमंद लोगों के लिए हाथ बढ़ाएं हैं।

By: Narendra Agarwal

Updated: 15 May 2021, 06:25 PM IST

नैनवां . राजस्थान पत्रिका के ‘महामारी से महामुकाबला’ अभियान से जुडकऱ नैनवां के दो सामाजिक कार्यकर्ता मुकेश जोशी व जोनी मारवाड़ा ने जरूरतमंद लोगों के लिए हाथ बढ़ाएं हैं। दोनों समाज सेवियों की ओर से नैनवां में कोरोना महामारी से परिवार के पालनहार की मौत पर आश्रितों को पांच-पांच हजार रुपये की तत्काल आर्थिक मदद उपलब्ध कराई जाएगी। ऐसे परिवारों को आगे भी जरूरत पर सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। शुक्रवार को इसकी शुरुआत कर दी गई। कस्बे में कुछ दिन पहले एक परिवार के पालनहार की कोरोना से मृत्यु हो गई थी। इस मौत के बाद दो-दो मासूम को पालने की जिमेदारी पत्नी के कंधों पर आ पड़ी। परिवार की इस दु:ख की घड़ी में राजस्थान पत्रिका के अभियान के जुडकऱ सहायता उपलब्ध कराने का निर्णय किया। यह राशि इस लिए दी जाएंगी कि उन्हें तुरंत में आर्थिक परेशानी नहीं झेलनी पड़े। दोनों ने परिवार के घर पर पहुंचकर मृतक की पत्नी को पांच हजार रुपये सौंप दिए। जोशी व मारवाड़ा ने बताया कि यह प्रयास जारी रखा जाएगा। पालनहार की मौत पर उनके आश्रितों को पांच-पांच हजार रुपये की नकद सहायता प्रदान की जाएगी। यह प्रेरणा राजस्थान पत्रिका के प्रदेशभर में चल रहे अभियान से मिली।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned