पंचायत समिति की साधारण सभा में अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों का झेलना पड़ा आक्रोश

हिण्डोली पंचायत समिति की साधारण सभा में शुक्रवार को भाग लेने आए अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों का आक्रोश झेलना पड़ा।

pankaj joshi

December, 0605:43 PM

हिण्डोली. हिण्डोली पंचायत समिति की साधारण सभा में शुक्रवार को भाग लेने आए अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों का आक्रोश झेलना पड़ा। वही पर प्रधानमंत्री सडक़ योजना के तहत 24 गांवों में बने वाली 268 किलोमीटर लंबी सडक़ों का अनुमोदन किया।
जानकारी के अनुसार सुबह साढे 11 बजे पंचायत समिति सभागार में बैठक आयोजित हुई। जिसमें बैठक की अध्यक्षता कर रही प्रधान ममता गुर्जर, उपखंड अधिकारी मुकेश चौधरी, तहसीलदार भावना सिंह व अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे। बैठक शुरू होते ही प्रधान गुर्जर ने उपखंड अधिकारी से पूछा की साब आप कल बैठक में क्यों नहीं आए। जिस पर कुछ देर के लिए दोनों में बात बढ गई।
इसके बाद बैठक शुरू हुई बैठक में चतरगंज सरपंच कन्हैयालाल गुर्जर ने कहा कि विद्युत निगम के अधिकारी किसानों को परेशान कर रहे हैं। कई किसानों के ट्रांसफार्मर खराब हैं जिन्हें नहीं दे रहे है। कईयों के ट्रांसफार्मर उतारे जा रहे हैं। सरपंच ने कहा कि गुढा बांध की नहरों की सफाई नहीं की। गंदी नहरों में ऐसे ही पानी छोड़ दिया। जिस पर निगम के सहायक अभियंता आरके वर्मा ने कहा कि किसानों की जो भी समस्या है उसका निदान किया जाता है। जिन किसानों में बकाया है। उच्चाधिकारियों के आदेश से ट्रांसफार्मर हटाए जा रहे है। जल संसाधन विभाग के सहायक अभियंता जंबू जैन ने बताया कि गुढा बांध की नहरों का पानी अंतिम छोर तक पहुंच गया है। पानी निर्बाध गति से जारी है।
तालाब गांव सरपंच हनीफ भाई ने कहा कि ग्राम पंचायत को मिलने वाली राशि अभी तक भी पंचायत समिति से खाते में नहीं डलवाई गई। हनीफ ने अधिकारी से पूछा कि 25 फीसदी राशि खाते में डलवाई जा रही है। जबकि राजस्थान के सभी पंचायत समितियों में ग्राम पंचायतों में पूरी राशि डाली है तो जिले में नए नियम बन गए क्या। जिस पर किसी ने जवाब नहीं दिया।
रोशंदा पंचायत समिति सदस्य सत्यनारायण ने कहा कि पंचायत समिति से गायब हुई 22 पत्रावलियों का क्या हुआ साब, यदि पत्रावली नहीं मिली तो उनका समायोजन कैसे होगा। जिस पर थाना प्रभारी शिवराज गुर्जर ने कहा कि इस मामले की जांच करवाई जा रही है। बैठक में छाबडियो का नयागांव सरपंच प्रभुलाल गुर्जर, उमर सरपंच खेमराज मीणा, विजयगढ़ सरपंच कमलेश मीणा, सहित सरपंचों ने बिजली, सडक़ों, मनरेगा के मामले उठाए। पेचकीबावड़ी सरपंच बाबूलाल मीणा ने कहा कि गांव में सडक़ों की हालत खराब है बिजली की स्थिति भी ठीक नहीं है। प्रधान ने रेंजर वीके गुप्ता से भी कामकाज पर नाराज हुई।

pankaj joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned