झमाझम बारिश से नदी- नाले उफने, मार्ग अवरुद्ध

बूंदी जिले में रविवार को बारिश की झड़ी लगी रही। झमाझम बारिश होने से नदी- नाले उफान पर आ गए। पुलियाओं पर पानी आने से रास्ते अवरुद्ध हो गए।

By: Narendra Agarwal

Published: 01 Aug 2021, 08:54 PM IST

बूंदी जिले में बारिश का दौर जारी, बांधों में आवक
बूंदी. बूंदी जिले में रविवार को बारिश की झड़ी लगी रही। झमाझम बारिश होने से नदी- नाले उफान पर आ गए। पुलियाओं पर पानी आने से रास्ते अवरुद्ध हो गए।
खेत जलमग्न रहे। बूंदी शहर में रात से चला बारिश का दौर रुक-रुककर दोपहर तक जारी रहा। यहां मौसम सुहावना बना रहा। कापरेन क्षेत्र में बरसात होने से हांडिया खेड़ा के निकट आलन के खाळ की पुलिया पर करीब चार फीट पानी की आवक होने से रविवार को आवागमन बंद रहा। गेण्डोली-झालीजी का बराना मार्ग पर बाबरदा का खाळ उफान पर रहा। खाळ की पुलिया पर करीब तीन फीट पानी आने के बाद गेण्डोली झालीजी का बराना मार्ग बंद हो गया। भंडेड़ा क्षेत्र में कालानला-बांसी मार्ग सुबह सात बजे से ही बंद हो गया। पुलिया पर दो फीट पानी आ गया। नोताड़ा क्षेत्र में पच्चीपला मेज नदी की पुलिया भी जलमग्न हो गई।
हिण्डोली क्षेत्र में शनिवार देर रात को बारिश के साथ चले तेज अंधड़ से कम कई गांवों में पेड़ धराशायी हो गए। लाखेरी उपखण्ड क्षेत्र में सखावदा व लबान में कच्चे घरों को नुकसान हुआ।

कापरेन. कस्बे सहित क्षेत्र में रिमझिम बरसात का दौर जारी रहा। बरसात के बाद निचली बस्तियों के घरों में पानी भर गया। कस्बे की तुर्किया, महावीर नगर में मकानों में पानी जमा होने से लोगों की परेशानी बढ़ गई। हांडया खेड़ा के निकट आलन के खाळ की पुलिया पर चार फीट पानी आने से देवली, ढिकोली व झरण्या की झोंपडिय़ा गांवों का सम्पर्क कट गया।
खटकड़. क्षेत्र में तेज बारिश के बाद अजेता, रिहाणा, ख्यावदा, रायथल, भैरूपुराओझा के खेत लबालब हो गए। इससे सोयाबीन व उड़द की फसलों में खराबे की आशंका पैदा हो गई। भाजपा मंडल अध्यक्ष महेन्द्र डोई व रायथल ग्राम सेवा सहकारी अध्यक्ष महावीर मीणा ने बताया कि किसानों ने महंगे दामों पर बीज खरीदा था, जिसमें नुकसान हो गया। किसानों को मुआवजा मिले।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned