घर में चल रही शराब की अवैध दुकान बंद कराई, एक गिरफ्तार

पुलिस अधिकारियों ने रविवार दोपहर को कस्बे में देईपोल चुंगी नाका चौराहा पर एक मकान में चल रही शराब की अवैध दुकान पकड़ी। मकान से दबिश देकर देसी व अंग्रेजी शराब के साथ बीयर की बोतलें भी जब्त की।

By: pankaj joshi

Updated: 12 Apr 2021, 09:36 PM IST

घर में चल रही शराब की अवैध दुकान बंद कराई, एक गिरफ्तार
सीएलजी की बैठक में उठाया मामला, पहुंचे तो मौके से हुई शराब बरामद
नैनवां. पुलिस अधिकारियों ने रविवार दोपहर को कस्बे में देईपोल चुंगी नाका चौराहा पर एक मकान में चल रही शराब की अवैध दुकान पकड़ी। मकान से दबिश देकर देसी व अंग्रेजी शराब के साथ बीयर की बोतलें भी जब्त की। मौके से शराब बेच रहे एक जने को गिरफ्तार किया गया।
पुलिस उपाधीक्षक कैलाशचंद जाट ने बताया कि रविवार को कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जागृति के लिए सीएलजी की बैठक में सदस्यों व व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने नैनवां व आस-पास के गांवों में संचालित शराब की अवैध दुकानों को बंद कराने की मांग रखी। उन्होंने देईपोल चुंगी नाका पर एक मकान में अवैध दुकान संचालित होने की जानकारी दी। मामले की सोशल मीडिया पर व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने भी जानकारी दी। मामला अवैध शराब से जुड़ा होने से नैनवां के आबकारी विभाग के सीआई माधाराम को भी बैठक में बुलवाया तथा देईपोल चुंगी नाका पर संचालित दुकान के बारे में जानकारी ली।
आबकारी सीआई ने दुकान को अवैध बताया तो पहले पुलिस कर्मियों को दुकान की लोकेशन व दुकान में रखी अवैध शराब की जानकारी लेने भेजा। जब पुष्टि हुई तो थानाधिकारी बृजभानसिंह ने जाब्ते के साथ पहुंचकर कार्रवाई की। मौके से देसी शराब के 188 पव्वे, 15 अद्धे, सात बोतल अंग्रेजी शराब के साथ बीयर की 43 बोतलें जब्त की। बीयर की बोतलें व कुछ पव्वे फ्रीज में रखे हुए मिले। मामला दर्ज करके मौके पर शराब बेच रहे एक जने राकेश खटीक को गिरफ्तार किया।
दुकान आवंटित एक, ब्रांचें खोल रहे अनेक
नैनवां. उपखंड में शराब की अवैध दुकानों का कारोबार खूब फलफूल रहा बताया। पिछले वित्त वर्ष में गांव-गांव दुकानें संचालित होती रही। चालू वित्त वर्ष में भी ब्रांचों के नाम शराब के अवैध कारोबार ने गति पकड़ ली। कारोबारी को दुकान एक आवंटित हुई और वह कई ब्रांचें खोलकर बैठ गए। गांव हो या कस्बा जहां अधिक शराब बिकने की संभावना लग रही, वहीं कारोबारी उस स्थान या मोहल्लों में दुकानें खोल रहे। आबकारी विभाग व पुलिस के पास जानकारी तो होती है लेकिन जब तक शिकायत नहीं होती तब वह भी आंखें बंद कर लेते हंै। शिकायत के बाद ही कार्रवाई करने को आगे आते है। एक पखवाड़े में ही ऐसे तीन मामले सामने आ चुके। 3 अप्रेल को कस्बे के अम्बेडकर सर्किल पर दुकान खोलने का प्रयास किया तो मोहल्ले के लोगों ने विरोध किया। दो दिन पहले भी समीधी गांव में संचालित अवैध दुकान से आबकारी विभाग ने देसी व अंग्रेजी शराब जब्त की। रविवार को भी सीएलजी की बैठक में मामला उठते ही पुलिस ने अवैध दुकान के खिलाफ कार्रवाई की।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned