स्काउट गाइड का दीक्षा संस्कार आयोजित

विश्व स्तर पर सबसे बड़ी यूनिफॉर्मड व्यक्तित्व विकास व सुनागरिक निर्माण की पाठशाला स्काउटिंग में बालक के जीवन का सर्वाधिक महत्वपूर्ण व प्रसन्नता दायक दिन होता है।

By: Narendra Agarwal

Updated: 28 Feb 2021, 05:07 PM IST

बूंदी. विश्व स्तर पर सबसे बड़ी यूनिफॉर्मड व्यक्तित्व विकास व सुनागरिक निर्माण की पाठशाला स्काउटिंग में बालक के जीवन का सर्वाधिक महत्वपूर्ण व प्रसन्नता दायक दिन होता है। जब उसे सफलतापूर्वक तीन माह की परिवीक्षा पूर्ण करने पर स्काउट गाइड के रूप में यूनिट द्वारा दीक्षा संस्कार में दीक्षित कर प्रवेश दिया जाता है।
ऐसा ही सुनहरा पल शनिवार को दस वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके रघुनाथ अकेडमी स्काउट ट्रूप बालचंद के बालक वीरेंद्र सिंह, तुषार हरचंदानी व मनीष साहू के जीवन में भी आया। जब राज्य मुख्यालय से अधिकृत यूनिट लीडर सर्वेश तिवारी ने इन्हें दीक्षा प्रदान कर सदस्यता बैज अवार्ड कर स्काउट में शामिल किया।
स्काउट विभाग के दीक्षा संस्कार का आयोजन ग्रुप लीडर प्रधानाचार्य अनिल वर्मा की अध्यक्षता में नवल सागर पार्क में आयोजित किया गया। समारोह में तीनों दीक्षित बालकों ने ईश्वर विदेश के प्रति कर्तव्य पालन व दूसरों की सहायता के संकल्प के साथ स्काउट में प्रवेश लिया। आतिश वर्मा ने स्काउट कैप व गाइड कैप्टेन अर्पिता शर्मा ने टेस्ट कार्ड प्रदान किया। स्थानीय संघ उपप्रधान रेखा शर्मा ने भी इस अवसर दीक्षित बालकों को अपनी शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए उनका आह्वान किया कि वह संवेदनशील उत्तरदायी सुनागरिक के रूप में स्वयं को तैयार करें। स्काउट प्रतिज्ञा को आत्मसात करें। अभिभावक प्रमोद शृंगी ने आभार प्रकट किया। इस अवसर पर यूनिट की गाइड कैप्टेन अर्पिता शर्मा, सीनियर गाइड निहारिका, सदस्य प्रशिक्षिका शर्मिला मेघवंशी, सुमन कल्याण, दीपा सैनी व कुशाल सिखवाल सहित लिटिल एंजिल व रघुनाथ एकेडमी यूनिट के स्काउट्स व गाइड्स व संस्था के सदस्यों ने सहभागिता की।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned