संदिग्ध रोगियों का सैंपल लेने वाले अब ब्लड बैंक में नहीं करेंगे कार्य

जिला अस्पताल में कोविड-19 संदिग्ध रोगियों का सैंपल लेने वाले लैब टेक्नीशियन अब ब्लड बैंक में लोगों का ब्लड निकालने व जांच का कार्य नहीं करेंगे।

By: pankaj joshi

Updated: 18 Apr 2020, 06:12 PM IST

संदिग्ध रोगियों का सैंपल लेने वाले अब ब्लड बैंक में नहीं करेंगे कार्य
-संक्रमण की आशंका के बाद ब्लड बैंक के 6 कर्मचारियों को सेम्पल से हटाया
बूंदी. जिला अस्पताल में कोविड-19 संदिग्ध रोगियों का सैंपल लेने वाले लैब टेक्नीशियन अब ब्लड बैंक में लोगों का ब्लड निकालने व जांच का कार्य नहीं करेंगे। बुधवार को इस विषय में जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष चर्मेश शर्मा ने मसला उठाया था। इसके बाद चिकित्सालय प्रशासन हरकत में आया और कोविड 19 संदिग्ध रोगियों के सैंपल लेकर जांच के लिए कोटा ले जाने के कार्य में लगे ब्लड बैंक के 6 कर्मचारियों की ड्यूटी इस कार्य से हटा दी।
26 रेलवे कार्मिक कराए होम आइसोलेट
- चिकित्सकों ने बरता ऐहतियात
इंद्रगढ़. जयपुर मानसरोवर निवासी दो रेलवे अधिकारियों के कोरोना पॉजिटिव के सम्पर्क में आने के बाद यहां 26 रेलवे कर्मचारियों की सूची तैयार की गई।दोनों रेलवे अधिकारी इंद्रगढ़-टोंक क्षेत्र में कार्यरत है।
इंद्रगढ़ चिकित्सालय के प्रभारी डॉ.गणेश लाल मीणा ने पूरे मामले की जानकारी जुटाई गई । क्वारन्टाइन हुए रेलवे अधिकारी ने बताया कि वह टोंक जिले के आमली रेलवे स्टेशन पर कार्यरत है। जयपुर के मानसरोवर में रहते हैं। उनके साथ इद्रगढ़ का एसएसइ भी था।लॉकडाउन होने के बाद वह काम पर आ गए थे। ऐसे में 26 बारहमासी साथ काम पर थे। जो डाक्टर जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मिले वे पास ही के निवासी है। ऐसे में ऐहतियात के तौर पर यहां सूची बनाकर सभी सम्पर्क के कर्मचारियों को होम आइसोलेट किया गया। हालांकि किसी में लक्षण नहीं दिखे।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned