तालेड़ा पुलिस के हाथ नहीं लगा हत्यारा, परिजनों ने नहीं उठाया शव

कस्बे में दो सगी बहिनों की चाकू से गोदकर नृशंस हत्या का आरोपी रविवार को दूसरे दिन भी पुलिस के हाथ नहीं लगा।

pankaj joshi

22 Mar 2020, 10:32 PM IST

तालेड़ा पुलिस के हाथ नहीं लगा हत्यारा, परिजनों ने नहीं उठाया शव
बूंदी. तालेड़ा. कस्बे में दो सगी बहिनों की चाकू से गोदकर नृशंस हत्या का आरोपी रविवार को दूसरे दिन भी पुलिस के हाथ नहीं लगा। लोगों का तालेड़ा पुलिस के खिलाफ रोष फूट पड़ा।नाराज परिजनों ने मृतका 22 वर्षीय प्रियंका गोस्वामी का शव नहीं उठाया। शव तालेड़ा मोर्चरी में रखा रहा। परिजन दिनभर घर के बाहर धरना देकर बैठे रहे। इस दौरान उन्हें पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने समझाया भी, लेकिन आरोपी के गिरफ्तार होने तक शव नहीं उठाने की बात पर अड़े रहे। इधर, रात तक परिजनों के प्रियंका का शव नहीं ले जाने पर प्रशासन ने डी-फीज में रखवाया।
72 घंटे में नहीं पकड़ा तो थाने के बाहर बैठेंगे
सूचना पर बूंदी, कोटा व पाली से गोस्वामी समाज के बड़ी संख्या में लोग तालेड़ा पहुंचे। यहां आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी के साथ ही पीडि़त परिवार को तीस-तीस लाख रुपए मुआवजा देने की मांग रखी। लोगों से समझाइश के लिए कार्यवाहक जिला कलक्टर मुरलीधर प्रतिहार, पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतनाम सिंह, केशवरायपाटन पुलिस उपाधीक्षक दीपक कुमार, तहसीलदार ओमप्रकाश जैन व तालेड़ा थाना अधिकारी रमेश तिवारी पहुंचे थे। गोस्वामी समाज युवा फोर्स पाली के प्रकाशपुरी गोस्वामी व कोटा जिलाध्यक्ष हंसराज गोस्वामी ने कहा कि जब तक आरोपी पकड़ा नहीं जाएगा, प्रियंका के शव को नहीं उठाएंगे। मौजूद लोगों ने मामले को केस ऑफिसर स्कीम में लेकर दोषी को फांसी की सजा दिलाने की मांग रखी। भाजपा के पूर्व प्रदेश प्रतिनिधि रुपेश शर्मा व बूंदी नगर परिषद के पार्षद मुकेश माधवानी भी तालेड़ा पहुंचे। उन्होंने तालेड़ा में बिगड़ी कानून व्यवस्था पर गहरी नाराजगी जाहिर की।
पूजा का किया अंतिम संस्कार
चाकू घोंपने से मारी गई 24 वर्षीय पूजा का परिजनों ने शनिवार शाम को अपने पैतृक गांव जाखमूंड में अंतिम संस्कार कर दिया था। इसके बाद प्रियंका की कोटा चिकित्सालय में मौत होने की खबर आई। तब प्रियंका का पुलिस ने शव तालेड़ा चिकित्सालय में रखवाया।
पढऩे जा रही थी दोनों बहिनें
तालेड़ा की शिवाजी कॉलोनी निवासी 24 वर्षीय पूजा गोस्वामी अपनी छोटी ***** 22 वर्षीय प्रियंका गोस्वामी के साथ एमटी कॉलेज में कम्प्यूटर की पढ़ाई करने जा रही थी। तभी रास्ते में उन्हें इसी मोहल्ले के निवासी आरोपी महेश उर्फ पप्पू राठौर ने चाकू से गोद दिया। पूजा की तो मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि छोटी ***** प्रियंका की कोटा में इलाज के दौरान मौत हुई। आरोपी ने बाद में इनके घर पहुंचकर इन्हीं की ***** 26 वर्षीय रेखा के भी चाकू घोंप दिया था। जिससे वह जख्मी हो गई। उसका तालेड़ा के चिकित्सालय में प्राथमिक उपचार कराया गया था। गौरतलब है कि आरोपी महेश पूजा से दोस्ती करना चाहता था। पूजा के मना करने पर उसने यह कदम उठाया। बीच-बचाव करने में प्रियंका की भी जान चली गई।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned