पालिका प्रशासन ने हाइवे के किनारे की गुमटियां हटाने के दिए निर्देश

कोटा दौसा मेगा स्टेट हाइवे पर सहकारी चीनी मिल चौराहे पर सड़क के किनारे गुमटियां व दुकानें लगाने वाले को नगर पालिका प्रशासन ने नोटिस देकर 3 दिन में अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए हैं।

By: pankaj joshi

Updated: 13 Oct 2021, 07:28 PM IST

पालिका प्रशासन ने हाइवे के किनारे की गुमटियां हटाने के दिए निर्देश
वर्षों पुरानी समस्या का नहीं हो पाया समाधान
केशवरायपाटन. कोटा दौसा मेगा स्टेट हाइवे पर सहकारी चीनी मिल चौराहे पर सड़क के किनारे गुमटियां व दुकानें लगाने वाले को नगर पालिका प्रशासन ने नोटिस देकर 3 दिन में अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए हैं। यहां पर दिल्ली-मुंबई रेलवे लाइन पर ओवरब्रिज का निर्माण कार्य चल रहा है। पुलिया के क्षेत्र में 100 से अधिक व्यापारियों ने गुमटियां लगा रखी है। यह व्यापारी लंबे समय से जमे हुए हैं। कहीं छोटे एवं गरीब व्यापारियों ने अपना व्यवसाय चलाने के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत ऋण भी ले रखा है। नोटिस मिलने के बाद व्यापारियों ने खलबली मच गई है।
पहले बसाओ फिर हटेंगे
सड़क के किनारे गुमटियां लगाकर अपने परिवार को पालने वाले व्यापारियों ने प्रशासन को चेतावनी दी है कि पहले उनको बसाने की व्यवस्था की जाए, उसके बाद यहां से हटायां जाएं। व्यापारी सुरेंद्र कुमार, रामजी सेन, सत्यनारायण महावर, अनवर हुसैन, प्रभुलाल गोचर ने बताया कि प्रशासन बार-बार परेशान करता है। नगर पालिका ने इन व्यापारियों के लिए सरकारी चीनी मिल चौराहे पर मिल के सामने जमीन आवंटित की थी। जहां बाजार बनाने आश्वासन दिया था। यह कार्य भी नहीं किया गया। जबरन हटाया गया तो आंदोलन किया जाएगा।
सरकारी चीनी मिल चौराहे पर रेलवे की ओर से ओवरब्रिज का कार्य प्रस्तावित होने से अतिक्रमण बाधक बना हुआ है। प्रक्रिया के तहत ही इनको हटाने का नोटिस जारी किया गया है। सभी अतिक्रमियों को तीन दिनों में अपनी गुमटियां हटाने के निर्देश दिए गए हैं। नहीं हटाने पर पालिका प्रशासन इनको हटाएगा। हटाने का खर्चा भी इनको देना होगा।
सुरेश कुमार रैगर, अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका केशवरायपाटन

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned