scriptBundi News, Bundi Rajasthan News,to startup,to promote,will get help | startup : स्टार्टअप को प्रमोट करने के लिए मिलेगी सहायता | Patrika News

startup : स्टार्टअप को प्रमोट करने के लिए मिलेगी सहायता

युवाओं में स्टार्टअप और एंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा देने के लिए राजकीय महाविद्यालयों में इनक्यूबेशन सेल स्थापित होगी। यह सेल सूचना प्रौद्योगिकी विभाग और कॉलेज आयुक्तालय के संयुक्त तत्वावधान में आई-स्टार्ट योजना के तहत शुरू की जाएगी।

बूंदी

Published: January 12, 2022 07:57:53 pm

startup : स्टार्टअप को प्रमोट करने के लिए मिलेगी सहायता
बूंदी के पीजी कॉलेज में बनेगी इनक्यूबेशन सेल
कॉलेज शिक्षा आयुक्तालय ने जारी किए आदेश, किसानों, युवाओं व महिलाओं को मिलेगा फायदा
स्टार्टअप का मिलेगा अवसर, सेल में लगेंगे पांच लाख रुपये के आइटी उपकरण
बूंदी. युवाओं में स्टार्टअप और एंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा देने के लिए राजकीय महाविद्यालयों में इनक्यूबेशन सेल स्थापित होगी। यह सेल सूचना प्रौद्योगिकी विभाग और कॉलेज आयुक्तालय के संयुक्त तत्वावधान में आई-स्टार्ट योजना के तहत शुरू की जाएगी। यहां स्टार्टअप को प्रमोट करने के लिए सहायता मिलेगी। कॉलेज शिक्षा आयुक्तालय प्रदेश में पहली बार कॉलेजों में यह सेल बनाएगा।

startup : स्टार्टअप को प्रमोट करने के लिए मिलेगी सहायता
startup : स्टार्टअप को प्रमोट करने के लिए मिलेगी सहायता

इसका फायदा किसानों, युवाओं व महिलाओं को भी मिलेगा, जिन्हें इस सेल के जरिए नवाचार व स्टार्टअप को प्रोत्साहित करने के साथ सरकार की ओर से आर्थिक सहयोग भी दिया जाएगा। इसके तहत पांच लाख रुपए की लागत से प्रत्येक कॉलेज में लैब बनाई जाएगी। चयनित कॉलेजों के दो फैकल्टी को इनक्यूबेशन सेल संचालन और मेंटर ट्रेनिंग दे दी गई।

इसमें बूंदी के राजकीय महाविद्यालय का चयन किया गया। इसके लिए महाविद्यालय के सहायक आचार्य दिलीप कुमार राठौड़ व डॉ.राजेंद्र प्रसाद को मेंटर टीचर के रूप में प्रशिक्षण दिया गया। महाविद्यालय में समन्वयक के रूप में नियुक्त किया। महाविद्यालय को इस सेल के लिये अलग से कक्ष एवं अन्य व्यवस्थायें उप्लब्ध करानी होगी। जहां 5 लाख रुपये तक के आइटी उपकरण लगेंगे। कॉलेज प्रशासन को इस प्रोजेक्ट में बिजली इंटरनेट सहित अन्य खर्च की राशि वहन करनी होगी। इस संबंध में सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के आयुक्त ने आदेश जारी किए। उक्त आदेश के अनुसार उच्च शिक्षण संस्थाओं में अध्ययनरत युवाओं में नए-नए आइडियाज के साथ कुछ करने की क्षमता होने के बावजूद उनके विचारों को मेंटरिंग एवं मार्गदर्शन नहीं मिल रहा था। इसी मंशा से इसे शुरू किया गया।

नए आइडिए को देंगे मेंटर, मिलेगा प्रोत्सान संबल
इस सेल के जरिए संबंधित जिले के युवाओं एवं उद्यमियों, चाहे वे महाविद्यालय के विद्यार्थी ना हों, उनके आइडियाज को तार्किकता के साथ प्रोत्साहित करने, उनको मार्गदर्शन देने एवं उन्हें मैंटर करने का कार्य किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से सामाजिक विकास में भागीदारी का प्रत्यक्ष अवसर मिलेगा। साथ ही कॉलेज में पढ़ रहे युवाओं को भी उनके नए आइडियाज को अमल में लाने के लिये प्रोत्साहन एवं संबल मिलेगा।

देंगे रोजगार, अवसरों की जानकारी
यहां विद्यार्थियों को स्टार्टअप शुरू करने, स्टार्टअप आइडिया प्रक्रिया और सरकारी मदद की जानकारी दी जाएगी। जिले में ही रोजगार के अवसर कैसे पैदा किए जा सकेंगे इसके ऊपर भी यह सेल काम करेगी।

युवाओं के लिए अच्छा अवसर होगा वह अपने नवीन आइडिया से स्टार्टअप प्रारंभ कर सकेंगे। इसके लिए बूंदी महाविद्यालय सहित प्रदेश के 32 जिलों में इन्कयूबेशन सेल बनेगी। सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से सेल संचालित होगी। इससे किसानों और महिलाओं को भी रोजगार व कमाई के नए
अवसर मिलेंगे’।
दिलीप राठौड़, सहायक आचार्य, राजकीय महाविद्यालय, बूंदी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पंजाबः अवैध खनन मामले में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, सीएम चन्नी के भतीजे के ठिकानों पर दबिशUttarakhand Election 2022: हरक सिंह रावत को लेकर कांग्रेस में विवाद, हरीश रावत ने आलाकमान के सामने जताया विरोधUP Election 2022 : अखिलेश के अन्न संकल्प के बाद भाकियू अध्‍यक्ष का यू टर्न, फिर किया सपा-रालोद गठबंधन के समर्थन का ऐलानभारत के कोरोना मामलों में आई गिरावट, पर डरा रहा पॉजिटिविटी रेटभगवंत मान हो सकते हैं पंजाब में AAP के सीएम उम्मीदवार! केजरीवाल आज करेंगे घोषणाpm svanidhi scheme: रोजगार करना चाहते हैं तो बिना गारंटी ले लोन, ब्याज पर 7% मिलेगी सब्सिडीसचिन तेंदुलकर के नाक से बह रहा था खून, फिर भी बोला- 'मैं खेलेगा'नोएडा-गाजियाबाद समेत पूरे एनसीआर में 21-23 जनवरी तक बारिश की संभावना: मौसम विभाग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.