14 घंटे बाद ली घायल नीलगाय की सुध

राष्ट्रीय राजमार्ग 52 पर शुक्रवार रात को घायल हुई नीलगाय को वन विभाग ने उपचार के लिए 14 घंटे बाद पशु चिकित्सालय पहुंचाया।

By: pankaj joshi

Published: 22 Nov 2020, 06:59 PM IST

14 घंटे बाद ली घायल नीलगाय की सुध
उपचार के लिए कोटा रैफर
रामगंजबालाजी. राष्ट्रीय राजमार्ग 52 पर शुक्रवार रात को घायल हुई नीलगाय को वन विभाग ने उपचार के लिए 14 घंटे बाद पशु चिकित्सालय पहुंचाया। पशु चिकित्सालय में गाय का प्राथमिक उपचार किए बिना ही उसे कोटा रैफर कर दिया गया। जानकारी के अनुसार राजमार्ग पर रायता माइनर के निकट रात के समय अज्ञात वाहन की टक्कर से एक नीलगाय घायल हो गई थी। उसके पैर टूट जाने के चलते वह सडक़ पर पड़ी रही। फिर लोगों ने उसे सडक़ किनारे बैठाया। दर्द से करहाती हुई वह सडक़ के गड्ढे में जा गिरी। आसपास के ग्रामीणों ने व बूंदी युवा सेना के कार्यकर्ता पप्पू लाल मेघवाल ने इसकी सूचना वन विभाग को दी। जिस पर वन विभाग के मांगली नाका प्रभारी नंद किशोर गोस्वामी सहित दो अन्य कर्मचारी मौके पर पहुंचे। वहीं वन विभाग की पिकअप में ग्रामीणों की सहायता से नीलगाय को बूंदी पशु चिकित्सालय ले गए। जहां पर पशु चिकित्सकों ने गाय का उपचार किए बिना ही उसे कोटा रैफर कर दिया। नाका प्रभारी नंद किशोर गोस्वामी ने बताया कि बूंदी पशु चिकित्सालय में ड्यूटी डॉक्टर से नीलगाय के प्राथमिक उपचार के लिए कहा, लेकिन यहां सुनवाई नहीं की व गाय को कोटा चिडिय़ाघर के लिए रैफर कर दिया। कर्मचारी गाय को चिडिय़ाघर छोडकऱ आए।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned