चोरियों के विरोध में केशवरायपाटन कस्बा पूरी तरह बंद

दिनदहाड़े होती चोरियों के विरोध में गुरुवार को केशवरायपाटन कस्बा पूरी तरह बंद है। यहां लगातार होती चोरियों के विरोध में संयुक्त व्यापार संघ ने बंद का आह्वान किया था।

By: Narendra Agarwal

Published: 04 Mar 2021, 05:30 PM IST

बूंदी. दिनदहाड़े होती चोरियों के विरोध में गुरुवार को केशवरायपाटन कस्बा पूरी तरह बंद है। यहां लगातार होती चोरियों के विरोध में संयुक्त व्यापार संघ ने बंद का आह्वान किया था। चोरियों के विरोध में सुबह से ही बाजारों में आवश्यक सेवाओं को छोडकऱ शेष प्रतिष्ठान नहीं खुले। चाय की कुछ थडिय़ां खुली थी, जिन्हें भी व्यापार संघ से जुड़े लोगों ने पहुंचकर बंद करा दिया। व्यापारियों का कहना है कि दिनदहाड़े कस्बे में सिलसिलेवार चोरियां हो रही, लेकिन पुलिस किसी भी मामले में गंभीरता नहीं दिखा रही। अब तो हालात यह हो गए कि दुकानदारों की आंख चुराकर सामान चोरी होने लगे हैं। पुलिस कस्बे में हो रही चोरियों के एक भी मामले का खुलासा नहीं कर सकी है, जबकि व्यापारी लगातार कार्रवाई की मांग करते आ रहे हैं। जब सुनवाई नहीं हुई तो व्यापारियों ने बंद का निर्णय कर लिया।
गुमशुदा बालक को परिजनों से मिलाया
बूंदी. बाल कल्याण समिति व चाइल्ड लाइन टीम ने एक गुमशुदा बालक को उसके परिजनों से मिलाया। बालक को देख परिजनों के आंखों से खुशी के आंसू छलक पड़े। बच्चे को गले से लगा लिया। दो दिन पहले 13 वर्षीय बालक विक्रम कोटा नांता से गुम हो गया था। बालक मानसिक रूप से कमजोर था। घर से भागकर बूंदी जिले के ग्राम काला बरड़ा पहुंचा। सूचना पर चाइल्ड लाइन टीम ने बालक को ढूंढने के प्रयास शुरू किए। जहां गांव वालों की मदद से बालक को तालेड़ा लाया गया। फिर 1098 पर चाइल्ड हेल्प लाइन बूंदी को इसकी सूचना दी गई। समिति ने मेडिकल जांच के बाद बाल कल्याण समिति के यहां पेश किया गया। बाल कल्याण समिति की सुलोचना शर्मा व बूंदी चाइल्ड लाइन काउंसलर संजना शर्मा ने बालक विक्रम को उसकी मां दुर्गा बाई को संभलाया।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned