केंद्रीय जलशक्ति मंत्री शेखावत से लिपटकर फफक पड़ी जिया

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत रविवार सुबह बूंदी आए। यहां विकास नगर में मेज नदी हादसे में मरे परिवार के सदस्यों को घर जाकर ढांढस बंधाया।

By: pankaj joshi

Updated: 01 Mar 2020, 10:19 PM IST

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री शेखावत से लिपटकर फफक पड़ी जिया
बूंदी. केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत रविवार सुबह बूंदी आए। यहां विकास नगर में मेज नदी हादसे में मरे परिवार के सदस्यों को घर जाकर ढांढस बंधाया। परिवार में सिर्फ नौ वर्षीय जिया बची जो मंत्री से लिपटकर फफक पड़ी। लोगों ने बताया कि जिया के पिता जितेन्द्र उर्फ जीतू, मां सोनिया एवं छोटी ***** कनिका उर्फ कन्नू की बस के मेज नदी में गिरने से मौत हो गई। मंत्री शेखावत देर तक घर पर बैठे और पूरी घटना को सुना। फिर मौजूद लोगों को धीरज रखने को कहा।
सरकार मदद राशि बढ़ाएं
केंद्रीय जलशक्ति मंत्री शेखावत ने बातचीत में कहा कि हादसे पर जितनी चिंता व्यक्त की जाए, कम होगी। उन्होंने कहा कि ऐसी घटना दुबारा नहीं हो इसके लिए प्रदेश सरकार ठोस कदम उठाए। साथ ही सरकार दुर्घटना में मारे गए सभी लोगों के लिए दी जा रही मुआवजा राशि को बढ़ाए। जिन परिवारों में सिर्फ बच्चे ही रह गए उनके लिए सरकार को चाहिए कि पृथक से घोषणा करें।
माजी साहब का कुंड देखा
केंद्रीय जलशक्ति मंत्री शेखावत ने लौटते वक्त बूंदी के माजी साहब के कुंड के हाल देखे। वह यहां सेव ऑवर हेरिटेज कैंपेन के संस्थापक अरिहन्त सिंह शेखावत के साथ पहुंचे। उन्हें अरिहन्त ने इसके बारे में पत्र लिखा था, साथ ही बजट जारी करने की मांग की थी। मंत्री ने बूंदी आने पर कुंड को किनारे पर जाकर देखा। साथ ही कुंड की दशा पर चिंता जाहिर की।
भाजपा कार्यकर्ताओं से मिले
बहादुर सिंह सर्किल के निकट मंत्री शेखावत भाजपा कार्यकर्ताओं से भी मिले। इस दौरान भाजयुमो जिलाध्यक्ष लोकेश शर्मा, भाजपा जिला प्रवक्ता संजय लाठी, ओमेन्द्र सिंह हाड़ा, अमित शर्मा, निर्मल मालव आदि मौजूद थे।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned