दावे सिलाई मास्टर होने का...जब हाथ डाला तो खुद की जेब फटी मिली...आखिर क्यों बने यह हाल

जिले में सड़कों व भवनों से संबंधित विकास कार्य लगभग ठप से हो गए हैं।

By: pankaj joshi

Published: 19 Jan 2019, 01:18 PM IST

Bundi, Bundi, Rajasthan, India

बूंदी. जिले में सड़कों व भवनों से संबंधित विकास कार्य लगभग ठप से हो गए हैं। कुछ ही जगहों पर नाम मात्र के काम चल रहे हैं। इसका मुख्य कारण विधानसभा चुनाव के बाद से सार्वजनिक निर्माण विभाग को स्टेट फण्ड से कोई भुगतान नहीं मिलना बताया जा रहा है। भुगतान नहीं होने से ठेकेदार स्वीकृत कामों को शुरू नहीं कर रहे हैं।
जिले के बूंदी, नैनवां व लाखेरी डिविजन की बात करें तो कम से कम बीस करोड़ रुपया ठेकेदारों का विभाग के ऊपर बकाया चल रहा है, लेकिन स्टेट से पैसा नहीं मिलने से सार्वजनिक निर्माण विभाग ठेकेदारों को भुगतान नहीं कर पा रहा है। करोड़ों रुपए बकाया होने से जिले के विकास कार्य की गति दम तोड़ती नजर आ रही है।
नहीं हो रहे काम
सूत्रों के अनुसार जिले में सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से स्वीकृत कार्य ठेकेदार नहीं कर पा रहे हैं। जिनमें गौरवपथ, मिसिंग लिंक, आरआईडीएफ-२४ के तहत सड़क निर्माण कार्य, भवन कार्य व सड़क मरम्मत के लिए पैसा नहीं मिल रहा है। इस कारण जिले में कहीं भी कार्य शुरू नहीं हो पा रहे हैं। यहां तक की सड़क की मरम्मत भी नहीं हो पा रही है। गौरतलब है कि बूंदी शहर में बीबनवा से दौलाड़ा मण्डी की ओर सड़क निर्माण कार्य आचार संहिता से पहले स्वीकृत हुआ था, लेकिन चुनाव खत्म हुए एक माह से अधिक का समय बीत चुका है। फिर भी सड़क का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पा रहा है।
सरकार दे ध्यान
सार्वजनिक निर्माण विभाग में स्टेट फण्ड से पैसा नहीं दिया जा रहा है। जिस कारण सभी विकास कार्य करने में ठेकेदारों को परेशानी हो रही है। ऐसे में सरकार विकास कार्यों की गति बढ़ाने पर ध्यान दे। विभाग को राशि उपलब्ध कराए ताकि जिले में विकास कार्य शुरू हो सके।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned