scriptडीएलबी कोटा की उप निदेशक ने किया नगर परिषद का निरीक्षण, कहा बेहतर सुधार की जरूरत | Patrika News
बूंदी

डीएलबी कोटा की उप निदेशक ने किया नगर परिषद का निरीक्षण, कहा बेहतर सुधार की जरूरत

डीएलबी कोटा की उप निदेशक अनुपमा टेलर बुधवार को नगर परिषद आई। यहां परिषद की शाखाओं का निरीक्षण कर आय के स्त्रोतों कैसे अर्जित किया जाए इसको लेकर अधिकारियों के साथ मंथन किया। करीब तीन घंटे से अधिक परिषद में हर शाखा की फाइलोंं का अवलोकन कर कमियों को सुधारने के संबंधित को निर्देश दिए।

बूंदीJun 27, 2024 / 12:06 pm

Narendra Agarwal

डीएलबी कोटा की उप निदेशक ने किया नगर परिषद का निरीक्षण, कहा बेहतर सुधार की जरूरत

बूंदी. नगर परिषद में निरीक्षण के दौरान सभापति कक्ष में शाखाओं की फाइल को देखती उप निदेशक अनुपमा टेलर।

बूंदी.डीएलबी कोटा की उप निदेशक अनुपमा टेलर बुधवार को नगर परिषद आई। यहां परिषद की शाखाओं का निरीक्षण कर आय के स्त्रोतों कैसे अर्जित किया जाए इसको लेकर अधिकारियों के साथ मंथन किया। करीब तीन घंटे से अधिक परिषद में हर शाखा की फाइलोंं का अवलोकन कर कमियों को सुधारने के संबंधित को निर्देश दिए।
निरीक्षण के दौरान जब उप निदेशक को शाखाओं में गंदगी मिली तो उसको लेकर गहरी नाराजगी जाहिर की और अधिकारियों से कहा कि जब आपका परिषद ही स्वच्छ नहीं होगा तो शहर कैसे स्वच्छ होगा। उन्होंने कहा कि नगर परिषद में काफी कुछ और बेहतर सुधार की जरूरत है, जिस तरीके की यहां उच्च मॉनिटङ्क्षरग होनी चाहिए है वो नहीं हो रही है। इस दौरान पट्टा नहीं बनाने, अवैध निर्माण हटाने, सफाई कर्मियों की भर्ती,रिटायर्ड कर्मियों की पेंशन व ठेकाकर्मी के बकाया भुगतान सहित अन्य मुद्दे उप निदेशक के समक्ष आए।
बूंदी पहुंचने के बाद उप निदेशक ने सभापति मधु नुवाल,कार्यवाहक आयुक्त अरूणेश शर्मा सहित सभी शाखाओं के संबंधित कर्मचारियों से जानकारी जुटाई। इस दौरान परिषद के सेवानिवृत्त हुए 13 कर्मचारियों की पेंशन नहीं मिलने पर स्क्रीङ्क्षनग नहीं होने की बात सामने आई। इस पर उप निदेशक ने कहा कि पेंशन प्रकरण के मामले पेंशन विभाग नहीं पहुंच पाए। ऐसे में अब परिषद द्वारा इनकी स्क्रीङ्क्षनग की जाएगी। इसके बाद उप निदेशक ने परिषद आए परिवादियों की सुनवाई कर उसके निस्तारण के संबंधितोंं को निर्देश दिए।
एक साल से नहीं है परिषद में आयुक्त
एक साल से स्थाई आयुक्त नहीं होने के सवाल के जबाव में उप निदेशक ने कहा कि इस संबंध में डीएलबी से लेकर मंत्री तक को अवगत करा दिया गया है कि बूंदी नगर परिषद में स्थाई तौर पर अभी आयुक्त नहीं है। परिषद में आयुक्त नहीं होने से कई विकास कार्य अटके हुए।
अवैध निर्माण की मंगवाई फाइल
परिषद की शाखाओं के निरीक्षण के दौरान लोगों ने शहर में बेरोकटोक कृषि भूमि पर काटी जा रही अवैध कॉलोनी को लेकर समस्या बताई। इस पर उप निदेशक ने आयुक्त से शहर में कितने अवैध निर्माण चल रहे और कितनों पर अवैध कॉलोनियां काटी जा रही इसकी फाइल तैयार करने को कहा है।
आय के स्रोत को लेकर किया मंथन
नगर परिषद में आय के स्रोत को कैसे बढ़ाया जाए, कहां से परिषद को आय प्राप्त को इसको लेकर उप निदेशक ने अधिकारियों के साथ मंथन किया। उप निदेशक ने नगर परिषद की भूमि,स्वामित्व की दुकानें और जो किराए पर दुकानेें चल रही उसके बारे में सभापति व आयुक्त से चर्चा की।
उपनिदेशक का जन समस्याओं को सुनने के लिए और नगर परिषद की खामियां देखने के लिए दौरा था, लेकिन यह दौरा मात्र एक औपचारिकता बनकर रह गया, किसी भी समस्या का मौके पर कोई निस्तारण नहीं हो पाया।दौरा के संबंध में मुख्य सचिव, निदेशक और मंत्री को मेल के माध्यम से अवगत करवा दिया गया है।
मुकेश माधवानी, नेता प्रतिपक्ष

Hindi News/ Bundi / डीएलबी कोटा की उप निदेशक ने किया नगर परिषद का निरीक्षण, कहा बेहतर सुधार की जरूरत

ट्रेंडिंग वीडियो