गाजे बाजे के बीच निकला तपस्वि का वरघोड़ा जुलूस

गाजे बाजे के बीच निकला तपस्वि का वरघोड़ा जुलूस

Nagesh Sharma | Publish: Sep, 03 2018 01:57:45 PM (IST) Bundi, Rajasthan, India

हर के सिलोर रोड स्थित श्वेताम्बर जैन दादाबाड़ी में साध्वी हर्षायशा महाराज के सानिध्य में

बूंदी. शहर के सिलोर रोड स्थित श्वेताम्बर जैन दादाबाड़ी में साध्वी हर्षायशा महाराज के सानिध्य में इन दिनों तपस्वियों के उपवास चल रहे है। जिसके अन्तर्गत 11 उपवास करने वाले आशीष भंडारी के पारणे का रविवार को वरगोड़ा का जुलूस निकाला गया।
जुलूस लुहार कटला स्थित छोटा मंदिर शुरू हुआ। जो शहर के प्रमुख मार्गों से होता हुआ जैन दादाबाड़ी पहुंचकर सम्पन्न हुआ। जहां भंडारी ने महाराज का आशीर्वाद लिया। जुलूस में भजनों पर महिलाएं नृत्य करते हुए चल रही थी।
सजी-धजी बग्घी में तपस्वी आशीष भंडारी बैठे हुए थे। जुलूस का मार्ग में जगह-जगह शीतल पेय व पुष्पवर्षा से स्वागत किया गया। राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ममता शर्मा, स्थानक समाज के अध्यक्ष मोहन लाल भडक़त्या, रोटरी अध्यक्ष चंद्रप्रकाश सेठी, दीपक भंडारी आदि ने तपस्वि का स्वागत किया।
सभी धर्मों का रहा राष्ट्रीय संत से जुड़ाव
बूंदी. क्रांतिकारी राष्ट्रीय संत तरुण सागर महाराज के देवलोक गमन पर रविवार को दिगम्बर जैन खंडेलवाल (सरावगी) समाज की ओर से चौगान जैन मंदिर में विन्यांजलि सभा आयोजित हुई। जिसमें वक्ताओं ने संत की जीवनी पर प्रकाश डाला। सभा की शुरुआत में णमोकार मंत्र का जाप किया। इसके बाद समाधिमरण मेरी भावना का शांति पाठ किया गया।
सभा को राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ममता शर्मा, सरावगी समाज के संरक्षक मदन लाल जैन, अध्यक्ष ओमप्रकाश बडज़ात्या, महेंद्र हरसोरा, कैलाश पाटनी, प्रमोद गंगवाल, नरेश बाकलीवाल, नवीन गंगवाल, सुरेंद्र छाबड़ा, बी.पी. गर्ग व नरेश पाटोदी ने कहा कि महाराज की बूंदी में ऐसी कई सभाएं हुई थी, जिसमें उनके क्रांतिकारी प्रवचनों से सभी धर्मों का जुड़ाव रहा। अंत में समाजबंधुओं ने तरुण सागर महाराज के चित्र पर आत्मिक विन्यांजलि दी। संचालन सचिव राजेंद्र छाबड़ा ने किया। इस दौरान समाज के उपाध्यक्ष राजेश पाटनी, कोषाध्यक्ष विमल कटारिया, महावीर पाटनी, महावीर काला, दिलीप बाकलीवाल, योगेंद्र जैन, संतोष पाटनी, जैन सोश्यल गु्रप के अध्यक्ष सुनील पापड़ीवाल, राजेंद्र ढगारिया आदि मौजूद थे। संचालन सचिव राजेंद्र छाबड़ा ने किया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned