गौरव पथ का गुणवत्तापूर्ण नहीं हुआ कार्य, साठ दिन में ही छलनी हो गई 66 लाख की सीसी सडक़

उपखंड के बाछोला गांव में सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से बनाया गौरव पथ दो माह में ही छलनी हो गया।

By: pankaj joshi

Published: 10 Jun 2019, 07:00 PM IST

-बाछोला गांव का गौरव पथ का मामला
नैनवां. उपखंड के बाछोला गांव में सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से बनाया गौरव पथ दो माह में ही छलनी हो गया। विभाग की ओर से नैनवां-देवली मार्ग पर उपस्वास्थ्य केन्द्र से रपट तक गौरव पथ बनाया गया था।
जानकारों ने बताया कि गौरव पथ का कार्य गुणवत्तापूर्ण नहीं होने से दो माह में ही छलनी होकर बिखरने लगा है। गांव के बीच तो सीसी रोड के उखडऩे से छोटे वाहनों के चेम्बर तक अडऩे लगे हंै। गौरव पथ के दोनों ओर साइडों में मिट्टी की पटरी नहीं बनाई गई। गौरव पथ के तहत गांव के बस स्टैण्ड के पास नाले पर पुलिया को ऊंची करने का कार्य भी प्रस्तावित था। यह कार्य भी अधूरा छोड़ दिया गया। बाछोला पंचायत के सरपंच मोहनलाल गोमे, उपसरपंच जगरूप गुर्जर, बहादुरसिंह व रामलाल सैनी ने बताया कि गौरव पथ निर्माण में घटिया सामग्री उपयोग में ली गई। 66 लाख रुपए का गौरव पथ 66 दिन भी सही नहीं रह सका। ग्रामीणों ने निर्माण के दौरान गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखने की बात कहते हुए काम रुकवाया था, लेकिन अधिकारियों ने अनसुना कर दिया।
इस मामले में सार्वजनिक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता हेमराज चौधरी ने बताया कि जहां-जहां सडक़ टूट गई उसे ठेकेदार से मरम्मत करवाकर ठीक करवाया जाएगा।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned