खुशहाली की कामना को लेकर पहुंचे भगवान के दर

खुशहाली की कामना को लेकर पहुंचे भगवान के दर

Devendra Singh Devra | Updated: 31 Jul 2019, 04:03:21 PM (IST) Bundi, Bundi, Rajasthan, India

ग्राम मोतीपुरा से ग्रामीण बुधवार को डीजे की धुन पर थिरकते हुए पैदल जत्था लेकर लकडेश्वर महादेव मंदिर पर पहुंचे।

पेचकीबावड़ी. ग्राम मोतीपुरा से ग्रामीण बुधवार को डीजे की धुन पर थिरकते हुए पैदल जत्था लेकर लकडेश्वर महादेव मंदिर पर पहुंचे। गांव व क्षेत्र की खुशहाली की कामना लेकर भोलेनाथ के दर पर पहुंचे। यहां झंडा सहित भोलेनाथ की परिक्रमा कर शिखर पर झंडा चढ़ाया और भोलेनाथ की आरती की गई। सावन की चौदस पर भोलेनाथ खेलेश्वर महादेव, बिलकेश्वर महादेव सहित शिवालयों पर भक्तो का तांता लगा रहा। इसी बीच दर्शनों के साथ क्षेत्र के गुलखेड़ी गाव के करीब आरावली पर्वत माला के बीच स्थित खेलेश्वर महादेव के पास बने एनिकट पर बारिश के बाद चल रही चादर का मजा भी लेते रहे
कलश यात्रा के साथ शिवमहापुराण कथा शुरू
बड़ानयागांव. डाटुंदा स्थित दुर्वासा नाथ महादेव मंदिर परिसर में कलश यात्रा के साथ शिव महापुराण कथा का शुभारंभ हुआ। कथा व्यास पंडित शिवलहरी गौतम ने बताया कि मानव जीवन बड़ी ही मुश्किल से प्राप्त होता है। यह वह भव है जहां से मुक्ति के मार्ग खुले हुए हैं। देवता भी मनुष्य योनि में जन्म लेने के लिए तरसते हैं, लेकिन मनुष्य युग में जन्म लेकर क्रोध, मान, माया व लोभ में फं स जाता है और स्वयं ही अपने मुक्ति के मार्ग को बंद कर लेता है। वेद चार हैं लेकिन जिस प्रकार वृक्ष की शाखाएं अलग-अलग होती हैं लेकिन उसकी जड़ ही उसका मूल तत्व है उसी प्रकार चारों वेदों का मूल शिवपुराण है। मानव को चाहिए निष्काम निस्वार्थ होकर पवित्र मन से भोलेनाथ की आराधना करें। आरती में रमेश, सत्यनारायण, प्रेमशंकर, दिनेश किरणेश, नितेश आदि मौजूद रहे।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned