हेड कांस्टेबल ने पुलिस अधीक्षक को सौंपा परिवाद, परिवार के साथ उपस्थित होकर मांगी स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति

pankaj joshi | Publish: May, 21 2019 08:00:00 AM (IST) Bundi, Bundi, Rajasthan, India

पुलिस लाइन में कार्यरत एक हेड कांस्टेबल ने अपने ही अधिकारियों पर प्रताडि़त करने का आरोप लगाया है।

बूंदी. पुलिस लाइन में कार्यरत एक हेड कांस्टेबल ने अपने ही अधिकारियों पर प्रताडि़त करने का आरोप लगाया है। वह परिवार के साथ सोमवार को पुलिस अधीक्षक से मिला और इस प्रताडऩा से तंग आकर 24 घंटे में पेंशन स्वीकृति का आदेश मांगा है। हेड कांस्टेबल कई वर्षों तक अधिकारियों का गनमैन भी रहा है।
हेड कांस्टेबल कमल प्रकाश सेन ने परिवाद में बताया कि वह पदोन्नति होने के बाद से पुलिस लाइन में कार्यरत है। यहां कार्यरत आरआई हेमाराम, एचसी केदार सिंह एवं गोपाल चौपदार बिना कोई कारण बताए उसे दो बार निलंबित करवा चुके हैं। बीते चार वर्षों में चार वेतनवृद्धि बंद करवा दी। इस प्रताडऩा से परेशान होकर स्थानान्तरण बूंदी पुलिस कंट्रोल रूम में करा लिया था। बीते एक वर्ष से भी अधिक समय से कंट्रोल रूम पर बिना कोई शिकायत के ड्यूटी कर रहा था, बावजूद आरआई हेमाराम ने एक रोज रात 2.30 बजे बिना कोई कारण बताए गैरहाजिरी डाल दी। जिसकी आमद लेने पहुंचा तो इनकार कर दिया। जवाब में कहा कि पुलिस अधीक्षक से आमद लो। बीते दो माह से पुलिस लाइन में ड्यूटी कर रहा था, जहां भी उक्त लोगों की प्रताडऩा कम नहीं हुई। परिवार में बताया कि इस प्रकार की प्रताडऩा झेलना अब उसके लिए मुश्किल हो गई है। ऐसे में सोमवार को पूरे परिवार को लेकर वह पुलिस अधीक्षक के समक्ष पेश हुआ और पेंशन स्वीकृति की मांग रखी।
इधर, पुलिस अधीक्षक ममता गुप्ता ने कहा कि विभागीय मामला है इसे दिखवा रहे हैं।
जांच कराओ
हेड कांस्टेबल ने पुलिस अधीक्षक के समक्ष जांच की मांग भी रखी। उसने बताया कि जांच में सब स्पष्ट हो जाएगा कि उसे किस प्रकार प्रताडि़त किया जा रहा है।
ऐसी कोई बात नहीं है, जो भी होगा, उसकी जांच हो जाएगी। उच्च अधिकारी जांच कर रहे हैं। ड्यूटी के बारे में भी कभी कोई बात नहीं बताई।
हेमाराम, आरआई पुलिस लाइन, बूंदी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned