मकान का हिस्सा ढहा, बाल-बाल बचा परिवार

नैनवां उपखण्ड के सुवानिया गांव में शनिवार देर रात बनवारीलाल धाकड़ के पक्ïके मकान का आधा हिस्सा ढह गया।

By: pankaj joshi

Published: 07 Jul 2019, 01:22 PM IST

मकान का हिस्सा ढहा, बाल-बाल बचा परिवार
नैनवां उपखण्ड के सुवानिया गांव में शनिवार देर रात बनवारीलाल धाकड़ के पक्ïके मकान का आधा हिस्सा ढह गया। मकान में सो रहा परिवार बाल बाल बच गया। रात को हो रही बरसात के दौरान मकान के भरभराने की आवाज के साथ मकान मालिक की पत्ïनी की नींद खुली। पत्ïनी ने पति व बच्चों को उठाया। और सभी को बाहर निकाला। तभी पूरा हिस्सा धराशायी हो गया। सभी परिवार के सदस्य मकान के धराशायी हुए हिस्से में ही सोये हुए थे। पत्ïनी की सजगता से परिवार के सदस्यों की जान बच गई। लेकिन मकान में रखा पूरा सामान मलबे में दब गया। मकान गिरने की आवाज सुन पड़ोसी भाग कर आए व पूरे परिवार को सुरक्षित देख राहत की सांस ली। पड़ोसियों की मदद से सामानों को बाहर निकाला।मकान मालिक ने बताया कि मकान पूरी तरह से सुरक्षित था। मकान कैसे ढहा यह समझ मे नही आ रहा।

pankaj joshi Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned