पालना करवाने वालों ने ही नहीं की कोविड गाइड लाइन की पालना

सभागार खचाखच भरा देखा तो सीईओ ने आधे कर्मचारियों को बाहर निकलवाया

By: Abhishek ojha

Published: 15 Apr 2021, 09:20 PM IST

नैनवां. न दो गज की दूरी थी तो कई चेहरों से मास्क नदारद थे और नैनवां पंचायत समिति का सभागार खचाखच भरा हुआ था। कोविड गाइड लाइन की पालना करवाने वाले ही कोविड गाइड लाइन तोड़ रहे थे। विकास अधिकारी पचास से कम कुर्सियों की क्षमता वाले सभागार में सौ से अधिक लोगों को बैठा कर समीक्षा का बैठक कर रहे थे। जिसमें पंचायत समिति के सभी अधिकारी, जिला परिषद से आए अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी, नरेगा तकनीकी सहायक, पंचायतों के कनिष्ठ सहायक, नरेगा सहायक भाग ले रहे थे। सभागार में डायस के बीच में भी कुर्सिया लगाकर अधिकारियों व कर्मचारियों को बैठा रखा था। सभागार में कुर्सी से कुर्सी मिली हुई थी, अधिकारी व कर्मचारी सटकर बैठे हुए थे। आधे के चेहरों पर मास्क नहीं थे। दोपहर ढाई बजे तक यही नजारा बना रहा। ढाई बजे जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुरलीधर प्रतिहार पहुंचे और सभागार खचाखच भरा देखा और कोविड गाइड लाइन टूटती नजर आई तो सभागार में बैठे दो तिहाई कर्मचारियों को बाहर निकलवाया। उसके बाद ही योजनाओं की समीक्षा शुरू की।

Abhishek ojha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned