सरकार से वार्ता विफल रात 12 बजे से थम सकते है रोडवेज के चक्के...

सरकार से वार्ता विफल रात 12 बजे से थम सकते है रोडवेज के चक्के...

Suraksha Rajora | Publish: Sep, 16 2018 08:41:10 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 08:41:11 PM (IST) Bundi, Rajasthan, India

सकारात्मक रूख का इंतजार दिनभर से वार्ता का दौर जारी

बूंदी. सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में आन्दोलन की राह पर श्रमिक संगठन का सरकार के खिलाफ विरोध पिछले पांच दिनों से जारी है। अपनी मांगो को लेकर कर्मचारी सरकार का कई बार ध्यान आकर्षित करवाने के बाद भी कोई सकारात्मक रूख नजर नही आने के बाद कर्मचारियों ने 17सितम्बर से रोडवेज ***** जाम की चेतावनी देते हुए अपना धरना जारी रखा।

 

रविवार को कर्मचारियों का दिनभर वार्ता का दौर जारी रहा लेकिन रात 9बजे बाद भी वार्ता विफल ही रही ऐसे में कर्मचारियों ने रोडवेज हडताल करने का निर्णय लिया है। एटक सचिव अशोक सक्सेना, हबीब खान, दीपक शर्मा, जाकिर हुसैन, रामपाल टेलर, आर.वी.नाटेकर, अब्दुल रशीक ने बताया कि रात 12बजे से पहले अगर सरकार से कोई सकरात्मक जवाब नही आया तो कर्मचारी रोडवेज का ***** जाम हड़ताल कर देगें।

 

हडताल को राजस्थान के श्रमिक संगठनो एटक, सीटू इंटक आरएसआरटीसी रियार्ड कर्मचारी बीजेएमस राजस्थान के सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण समिति के संयुक्त मोर्चे का पूरा समर्थन है। एटक सचिव अशोक सक्सेना ने बताया कि संयुक्त मोर्चा का 27 जुलाई को राज्य सरकार से हुए समझोते को लागू नही करने एवं रोडवेज द्वारा कर्मचारियों को 150 करोड़ रूपए देने का वादा किया था।

 

100करोड़ रूपए अभी तक भी नही दिए गए है, जिससे कर्मचारियों का बकाया पेमेंट नही हो पा रहा है। सातवां वेतन, आयोग लागु नही किया गया न ही नई बसे एवं नई नियुक्ति की प्रतिक्रिया पूरी नही की गई है। हर माह 45 करोड़ रूपए अनुदान राशि दने का वादा किया था उसमें से 25 करोड रूपए प्रतिमाह दिए जा रहें है।

 

जिसके चलते रोडवेज कर्मचारियों में आका्रेश व्याप्त है। हबीबखान ने बताया कि सरकार झुठे वादे करती है। प्रदेश भर में एक हजार बसे कंडम हो चुकी है। सरकार ने नई बसो का वादा किया था लेकिन अब तक इस मामले में कोई कार्रवाई नही हुई। यात्रियों की जान को खतरा रहता है। कर्मचारियों ने सरकार की इन्ही वादाखिलाफी को लेकर 16सितम्बर को रोडवेज का ***** जाम करने का निर्णय लिया गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned