लूट व चोरी की वारदातों से खफा व्यापारी व आमजन सडक़ों पर उतरेगा

शहर सहित जिले में हो आए दिन हो रही लूट व चोरी की वारदातों से खफा शहर के सभी व्यापार संघ, सामाजिक संगठन, युवा व प्रबुद्धजनों की

By: Narendra Agarwal

Published: 01 Jul 2019, 01:32 PM IST

बूंदी. शहर सहित जिले में हो आए दिन हो रही लूट व चोरी की वारदातों से खफा शहर के सभी व्यापार संघ, सामाजिक संगठन, युवा व प्रबुद्धजनों की रविवार को शहर के चौगान जैन नोहरे में बैठक हुई। जिसमें शहर के सर्राफा व्यापारी के साथ हुई दस लाख रुपए की लूट, नागदी बाजार स्थित दिगम्बर जैन पाŸवनाथ तीन चौबीसी मंदिर से भगवान की मूर्ति चोरी व महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचार को लेकर लोगों ने रोष व्यक्त किया। सभी ने पुलिस के रवैये के खिलाफ आक्रोश जताया। बैठक में सामूहिक रूप से 5 जुलाई को सभी व्यापार मण्डलों ने सुबह 10 से 12 बजे तक दो घंटे अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखने का निर्णय किया। सभी जुलूस के रूप में कलक्ट्रेट पहुंचेंगे जहां विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। इसके लिए 2 से 4 जुलाई तक व्यापार मण्डल के साथ-साथ विभिन्न संगठनों प्रतिनिधियों की टोलियां बाजारों में प्रत्येक प्रतिष्ठान पर संपर्क करेगी।
पुलिस सुन ही नहीं रही
बैठक को भाजपा प्रदेश प्रतिनिधि रूपेश शर्मा, वृहत्त व्यापार मण्डल अध्यक्ष परमेश्वर झंवर, सर्राफा एसोसिएशन अध्यक्ष सोहन तोषनीवाल, क्लॉथ मर्चेंट अध्यक्ष हरीश बिलोची, व्यापार महासंघ संरक्षक निरंजन जिंदल, इंद्रामार्केट सचिव प्रशांत मोदी, राइस मिल एसोसिएशन अध्यक्ष राजेश तापडिय़ा, ज्वैलर्स एसोसिएशन अध्यक्ष सत्यनारायण सोनी, लंकागेट व्यापार मण्डल संरक्षक कालू कटारा, मोची बाजार व्यापार संघ अध्यक्ष विनोद मंत्री, थडी होल्डर संघ अध्यक्ष भवानी सिंह, क्लोथ मर्चेंट महामंत्री रोशन बिलोची ने कहा कि पुलिस सुन ही नहीं रही। अपराधी सीसीटीवी में कैद होने के बाद भी पकड़ में नहीं आ रहे। वक्ताओं ने कहा कि शहर के प्रमुख चौराहों से बदमाश भागते रहे, देवपुरा तक दोनों पिता पुत्र उनके पीछे दौड़े, लेकिन प्रमुख चौराहों पर पुलिस की मुस्तैदी व गश्त नजर नहीं आई। कोतवाली व देवपुरा थाने के सामने से लुटेरे निकल गए, लेकिन पुलिस कहीं नजर नहीं आई।

Narendra Agarwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned