विद्यालय की अव्यवस्था से नाराज छात्र उतरे सड़क पर

विद्यालय की अव्यवस्था से नाराज छात्र उतरे सड़क पर

Nagesh Sharma | Publish: Sep, 10 2018 10:30:22 PM (IST) Bundi, Rajasthan, India

समीधी गांव के उच्च माध्यमिक विद्यालय में व्याप्त अव्यवस्थाओं से नाराज विद्यार्थियों ने सोमवार को विद्यालय के दरवाजे पर ताला लगा दिया।

समीधी स्कूल व अटल सेवा केंद्र पर लगाया ताला
नैनवां करवर मार्ग पर लगाया जाम

शिक्षकों व अन्य कर्मचारियों को भी भीतर नहीं घुसने दिया
नैनवां. समीधी गांव के उच्च माध्यमिक विद्यालय में व्याप्त अव्यवस्थाओं से नाराज विद्यार्थियों ने सोमवार को विद्यालय के दरवाजे पर ताला लगा दिया। उन्होंने विद्यालय शिक्षकों व अन्य कर्मचारियों को भी भीतर नहीं घुसने दिया। विद्यार्थियों ने स्कूल के बाहर सड़क पर आकर नैनवां करवर मार्ग को जाम कर दिया। रास्ते में अवरोधक डालकर आवागमन बंद कर दिया। इसके साथ ही उन्होंने ग्राम पंचायत के अटल सेवा केंद्र के भी ताला लगा दिया। विद्यार्थियों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने प्रधानाचार्य पुष्पा अग्रवाल का भी घेराव किया। सूचना पर जिला शिक्षाधिकारी माध्यमिक तेजकंवर ने प्रतिनिधि के रूप में नैनवां के बालिका सीनीयर सैकण्डरी स्कूल की प्रधानाचार्य सुनीता मीणा को मौके पर भेजा। जिन्होंने ग्रामीणों व पुलिस की मौजूदगी में विद्यार्थियों से बात कर समस्या समाधान करने का आश्वासन दिया। इसके बाद डेढ़ बजे विद्यालय का ताला खोला गया।
चार घण्टे रहे परेशान
***** जाम की सूचना पर 11 बजे करवर से कार्यवाहक थाना प्रभारी कान्हाराम समीधी गांव पहुंचे। जिन्होंने विद्यार्थियों को समझाया। विद्यार्थी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े थे। करीब चार घंटे तक नैनवां-करवर मार्ग बंद रहने से दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गई। बाद में समझाइश पर रास्ता बहाल हुआ।
पाबंद कर दिए निर्देश
जिला शिक्षाधिकारी की प्रतिनिधि के रूप में समीधी पहुंची नैनवां बालिका सीनीयर सैकण्डरी स्कूल की प्रधानाचार्य सुनीता मीना ने बताया कि समीधी की प्रधानाचार्य को नियमित व समय पर विद्यालय आने के लिए पाबंद कर दिया है। उन्होंने बताया कि विद्यालय के अंग्रेजी के व्याख्याता रसिक बिहारी की बामनगांव उच्च माध्यमिक विद्यालय में की गई प्रतिनियुक्ति के आदेश को निरस्त कर दिया है। विद्यालय की छत की मरम्मत के लिए विद्यालय भवन कोष से मरम्मत कराने के लिए कहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned