ऐसा क्या हुआ कि पार्षदों ने बैठक में कर दिया हंगामा और कार्य का बहिष्कार

ऐसा क्या हुआ कि पार्षदों ने बैठक में कर दिया हंगामा और कार्य का बहिष्कार

Narendra Agarwal | Publish: Feb, 15 2018 11:06:52 PM (IST) Bundi, Rajasthan, India

नैनवां. नगरपालिका बोर्ड की गुरुवार को हुई बैठक में पालिका प्रशासन पर मनमर्जी के प्रस्ताव लिखने का आरोप लगाकर पार्षदों ने हंगामा कर दिया।

नैनवां. नगरपालिका बोर्ड की गुरुवार को हुई बैठक में पालिका प्रशासन पर मनमर्जी के प्रस्ताव लिखने का आरोप लगाकर पार्षदों ने हंगामा कर दिया।
हंगामे के बीच ही भाजपा के पार्षद नरेन्द्र निर्मल ने तो पालिकाध्यक्ष को अपना इस्तीफा सौंप दिया और बैठक से उठकर चले गए। कुछ पार्षद बैठक का बहिष्कार कर निकल गए। पार्षदों के बहिष्कार के बाद बैठक में मौजूद पार्षदों ने बहुमत से पालिका का बजट पारित कर दिया। पालिकाध्यक्ष मधुकंवर की अध्यक्षता में बैठक शुरू होते ही कांग्रेस व भाजपा के पार्षदों ने पात्र परिवारों को खाद्य सुरक्षा का लाभ नही मिलने का आरोप लगाकार रोष जताना शुरू कर दिया।
अमजद खान, रजनीश शर्मा, नबील अंसारी, रेणु वर्मा, नरेन्द्र निर्मल, सोना जैन ने कहा कि व्यवस्थाओं की खामियों के चलते पात्र लोगों को खाद्य सुरक्षा का लाभ नहीं मिल पा रहा है। पात्र लोग तरस रहे और अपात्र लोग लाभ उठा रहे हैं।
अधिशासी अधिकारी जितेन्द्र मीणा के व्यवस्था में सुधार कराने के आश्वासन के बाद ही पार्षद शांत हो पाए। पार्षद अमजद खान ने भगतसिंह सर्किल से गढ़पोल तक का अतिक्रमण हटाने की मांग की।

घटिया निर्माण, फुटपाथ उखड़वाओ
पार्षद हेमराज गुर्जर, सोहनलाल वर्मा व नरेन्द्र निर्मल ने नवलसागर तालाब की पाल की सुरक्षा के लिए कराए जा रहे फुटपाथ के निर्माण में घटिया सामग्री का मामला उजागर होने के बाद भी पालिका प्रशासन द्वारा ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई न करने पर रोष प्रकट करते हुए घटिया निर्माण को उखड़वाने की मांग की। इस पर अधिशासी अधिकारी ने कहा कि ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई प्रस्तावित है। भुगतान रोक दिया तथा बैठक के बाद फुटपाथ को उखड़वा दिया जाएगा। बजट में नैनवां के भगवान आदिनाथ जयराज मारवाड़ा महाविद्यालय को सरकारी दर्जा नही देने पर पर कांग्रेस के पार्षदों ने हंगामा कर दिया। कांग्रेस के पार्षद हेमराज गुर्जर, अमजद खान, नबील असंारी, रेणु वर्मा, सोहनलाल वर्मा, अक्षिता मोडिका ने सरकार के खिलाफ निदंा प्रस्ताव रखा तो भाजपा के पार्षदों रजनीश शर्मा, महावीर सिंधव सहित अन्य पार्षदों ने इसका विरोध किया।

ऐसे चला घटनाक्रम
पार्षदों ने पालिका प्रशासन पर पार्षदों के नाम से मनमर्जी के प्रस्ताव लिखने को लेकर हंगामा कर दिया। पार्षद वर्षा ओसवाल, हेमराज गुर्जर ने कहा कि कर्मचारियों की नियुक्ति को लेकर पिछली बैठक में उनकी ओर से कोई प्रस्ताव पेश नही किया गया जबकि पिछली बैठक की कार्रवाई में उनकी ओर से प्रस्ताव पेश करना बता रखा है। बाद में कांग्रेस के पार्षद हेमराज गुर्जर, सोहनलाल वर्मा, रेणु वर्मा, अक्षिता मोडिका व राधे मारवाड़ा बैठक का बहिष्कार कर गए।

बहुमत से पारित हुआ बजट
बैठक की कार्रवाई के बीच ही अधिशासी अधिकारी जितेन्द्र मीणा ने नगरपालिका का वर्ष 2018 -19 का बजट सदन में रखा जिसको बहुमत से पारित कर दिया। अधिशासी अधिकारी ने बताया कि वर्ष 2018 -19 के लिए 24 करोड नौ लाख का बजट प्रस्तावित किया है। बजट में राजस्व आय नौ करोड़ 27 लाख व पूंजीगत आय 13 करोड 94 लाख रुपए प्रस्तावित है। राजस्व आय मद से सात करोड़ व पूंजीगत आय से 16 करोड़ रुपए व्यय होना प्रस्तावित की है।

बैठक, विकास के प्रस्ताव, पार्षद, पालिका प्रशासन

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned