30 दिन में 130 लोगों ने तोड़ा लॉकडाउन का नियम, कई के खिलाफ मामला दर्ज

कोरोना की चुनौती से निपटने प्रशासन ने नगर के नेपा ऑडिटोरियम को बनाया अस्थाई क्वारंटाइन सेंटर

 

By: tarunendra chauhan

Updated: 23 Apr 2020, 09:15 PM IST

 

बुरहानपुर. स्थानीय प्रशासन लगातार सख्ती बरतते हुए क्षेत्र को कोरोना से मुक्त रखने के लिए जतन कर रहा है। इसी क्रम में एसडीएम ने नगर के नेपा ऑडिटोरियम को अस्थाई क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में उपयोग करने के निर्देश दिए हैं। जहां बाहर से आने वाले लोगों को क्वारेंटाइन किया जा सके। लाख सख्ती बरतने के बावजूद भी नगर और क्षेत्र में लॉकडाउन का नियम तोडऩे वालों की भी कमी नहीं है। बीते करीब एक माह में 125 से ज्यादा लोगों ने नियम तोडऩे का अपराध किया है। जिनके खिलाफ पुलिस ने मामलें भी दर्ज किए है।

उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन के दौरान बाहर से पलायन कर आने से आने वाले और नगर के निराश्रित लोगों के लिए नेपा ऑडिटोरियम को अधिग्रहित कर अस्थाई क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में तब्दील किया गया और इसका प्रभारी अधिकारी का जिम्मा नगर पालिका सीएमओ राजेश मिश्रा को दिया। इस संबंध में एक आदेश जारी किया गया। यहां सभी लोगों की जानकारी मेंटेन की जाएगी और उनकी मेडिकल स्क्रीनिंग कराई जाएगी। साथ ही इसके लिए एक ग्रेन बैंक बनाकर नगर पालिका की तय सूची के 43 परिवारों के 88 लोगों को भोजन उपलब्ध कराने की व्यवस्था भी करेगा। जिसका नोडल अधिकारी तहसीलदार सुंदरलाल ठाकुर को बनाया गया।

एक माह में सवा सौ से ज्यादा मामले दर्ज
हालांकि पुलिस-प्रशासन और तमाम समाजसेवी संस्थाएं साथ मिलकर क्षेत्र को कोरोना संक्रमण से बचाए रखने के जतन में जी-जान से जुटे हैं। वहीं कई लापरवाह लोग भी नियमों को तांक पर रखकर बगैर मास्क लगाए, बिना किसी खास कारण के मनमानी कर घूमते रहते हैं। ऐसे करीब 130 लोगों के खिलाफ पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर धारा-188 के तहत अपराध दर्ज किया है। इसमें व्यापारी से लेकर जनसामान्य तक सभी शामिल है।

नाकाबंदी कर रहे कर्मचारियों से हो रहा विवाद
नगरीय सीमा ने बाहरी लोगों का अनावश्यक प्रवेश न हो इसके लिए सभी सीमाओं पर नाकाबंदी कर 5 नाके बनाए गए हैं। यहां नगर पालिका के कर्मचारियों के साथ एक-एक पुलिसकर्मी की भी तैनाती की गई है। यहां अब भी कई बार रात के दौरान तैनात कर्मचारियों के साथ आवागमन करने वाले लोग विवाद कर रहे है। जिससे कई बार सेवाएं देने वाले लोगों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। कई व्यापारी और रसूखदार लोग कर्मचारियों से बहस कर नियम तोडऩे का प्रयास करते है, जिससे अक्सर दूसरों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। एसडीएम विशा माधवानी ने सभी से पुलिस और प्रशासन का सहयोग कर लॉकडाउन का पालन करना का आग्रह किया है।

Corona virus corona virus in india
tarunendra chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned