कोविड नियमों का पालन नहीं करने पर 5 मैरिज गार्डन सील, एफआइआर दर्ज

- प्रशासन की तीन टीमों ने की एक साथ कार्रवाई
- मचा हड़कंप

By: Amiruddin Ahmad

Published: 06 Apr 2021, 10:55 AM IST

बुरहानपुर. शहर में कोरोना की रफ्तार तेज होने के साथ ही प्रशासन की सख्ती भी तेज होती जा रही है। सोमवार को प्रशासनिक अधिकारियों की तीन टीमें मैरिज गार्डनों का औचक निरीक्षण करने पहुंची तो लोगों की भीड़ देखकर दंग रह गई। कोविड नियमों का पालन नहीं करने पर 5 मैरिज गार्डनों को सील कर संचालक और विवाह की अनुमति लेने वाले 5 लोगों पर पुलिस थानों में प्रकरण दर्ज किया गया।
कलेक्टर प्रवीण सिंह ने टीएल बैठक में ही प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों की तीन टीमें बनाकर सोमवार दोपहर के बाद टीमें मैरिज गार्डनों की जांच करने के लिए रवाना गया गया। अपर कलेक्टर शैलेंद्र सिंह सोलंकी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक दिवान कीटीम हमीदपुरा स्थित हुसैनी मैरिज गार्डन एवं अंसारनगर स्थित जमातखाने पर पहुंचे।यहां पर शादी समारोह में 50 से अधिक लोग शामिल होने के साथ ही कोविड नियमों का उल्लंघन मिलने पर दोनों मैरिज गार्डनों को सील किया किया गया। एसडीएम काशीराम बड़ोले, सीएसपी बीपी वर्मा लालबाग रोडछत्रपति शिवाजी मराठा भवन पहुंचे यहां पर शादी में नियमों का पालन नहीं होने पर एफआइआर दर्ज कराई गई। शाहपुर क्षेत्र में नायब तहसीलदार गोविंदसिंह रावत ने पुलिस के साथ आनंद मंगल परिसर शाहपुर और मंगल परिसर नाचनखेड़ा पहुंच कर निरीक्षण किया।यहां पर भी कोविड नियमों का पालन नहीं होने पर एफआइआर दर्ज कराई गई।
3 थानों में 5 प्रकरण दर्ज
प्रशासिनक अधिकारियों की मैरिज गार्डनों पर कार्रवाई के बाद 3 थानों में धारा 188 के 5 प्रकरण दर्ज किए गए। कोविड नियमों की शर्ताे का उल्लंघन करने पर गणपति थाने में हुसैन मैरिज हॉल की अनुमति लेने पर नदीम उद्दीन पिता रफीक लतीफ उद्दीन, अंसार नगर जमातखाने के लिए बेग मोहम्मद पिता खुर्शिद, मराठा मंगल भवन में विवाह समारोह के लिए मनोहर तायडे पिता अप्पाजी तायड़े, आनंद मंगल शाहपुर में रमेश महाले विठ्ठल महालय और नाचनखेड़ा रोड मंगल परिसर में विवाह के लिए नितिन पिता चूड़ामन महाजन सहित मैरिज गार्डनों के संचालकों पर भी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Amiruddin Ahmad
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned